होम /न्यूज /उत्तराखंड /कालसी-चकराता मोटर मार्ग के लिए जजरेड़ पहाड़ी बनी मुसीबत

कालसी-चकराता मोटर मार्ग के लिए जजरेड़ पहाड़ी बनी मुसीबत

कालसी-चकराता मोटर मार्ग पर जजरेड़ पहाड़ी से गिरता रहता है मलबा

कालसी-चकराता मोटर मार्ग पर जजरेड़ पहाड़ी से गिरता रहता है मलबा

जौनसार बावर की लाइफ लाइन कालसी-चकराता मोटर मार्ग के लिए जजरेड़ पहाड़ी मुसीबत बन गई है. हल्की बारिश में ही पहाड़ी से गिर ...अधिक पढ़ें

    जौनसार बावर की लाइफ लाइन कालसी-चकराता मोटर मार्ग के लिए जजरेड़ पहाड़ी मुसीबत बन गई है. हल्की बारिश में ही पहाड़ी से गिर रहे मलबे से मार्ग बाधित हो रहा है.खास बात यह है कि लोक निर्माण विभाग इस पहाड़ी के ट्रीटमेंट पर अब तक करोड़ों रुपए खर्च कर चुका है, लेकिन नतीजा सिफर ही साबित हुआ है.

    दरअसल कालसी- चकराता मोटर मार्ग जनजातीय क्षेत्र का प्रमुख मोटर मार्ग है. इस मार्ग से क्षेत्र के करीब साढ़े तीन सौ गांवों की आबादी जिला मुख्यालय से जुड़ती है. खास बात यह है कि नगदी फसलों के लिए पहचान रखने वाले इस क्षेत्र से फसलें भी इसी रास्ते विकासनगर व देहरादून मंडी पहुंचती हैं. लेकिन पहाड़ी से गिर रहा मलबा आए दिन मार्ग को बाधित कर देता है. इससे जहां यात्री परेशान होते हैं वहीं फसलों से लदे वाहन भी मार्ग पर ही फंस जाते हैं.मरीजों को भी खासी दिक्कत झेलनी पड़ती है.

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें