अब सुप्रीम कोर्ट जाएगा फ़िल्म विवाद, नाम से ‘केदारनाथ’ हटाने के लिए याचिका जल्द

स्वामी दर्शन भारती ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि फिल्म केदारनाथ पर रोक लगाई जाए क्योंकि इस फिल्म में लव जेहाद को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है.

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 5:40 PM IST
अब सुप्रीम कोर्ट जाएगा फ़िल्म विवाद, नाम से ‘केदारनाथ’ हटाने के लिए याचिका जल्द
हाईकोर्ट में फ़िल्म बैन करने की याचिका लगाने वाले स्वामी दर्शन भारती नाम परिवर्तन के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं.
Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 5:40 PM IST
रिलीज़ होने के बाद भी फिल्म केदारनाथ को लेकर विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं. राज्य में फिल्म रिलीज़ पर लगी रोक के बाद अब फ़िल्म के नाम से ‘केदारनाथ’ हटाने की मांग की जा रही है. हाईकोर्ट में फ़िल्म बैन करने की याचिका लगाने वाले स्वामी दर्शन भारती नाम परिवर्तन के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं.

स्वामी दर्शन भारती ने कहा कि राज्य में फ़िल्म का प्रदर्शित न होना अच्छे संकेत हैं और अब वह पूरे देश में फ़िल्म रिलीज़ पर रोक लगाने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जल्द ही याचिका दाखिल करेंगे. इसके साथ ही फिल्म से केदारनाथ शब्द हटाने की भी मांग करेंगे. उन्होंने कहा कि केदारनाथ करोड़ों हिंदुओं के आराध्य हैं और उनके नाम पर एक सस्ती प्रेमकहानी नहीं बनाई जा सकती.

बता दें कि स्वामी दर्शन भारती ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि फिल्म केदारनाथ पर रोक लगाई जाए क्योंकि इस फिल्म में लव जेहाद को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है.

याचिका में यह भी कहा गया था कि फिल्म में 2013 की आपदा को प्रेम यात्रा के रुप में दर्शाया गया है. हाई कोर्ट ने फिल्म पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था. हालांकि भारती कहते हैं कि हाईकोर्ट ने एक सभी डीएम को दिशानिर्देश दिए थे जिसके बाद राज्य सरकार की फ़िल्म रिव्यू कमेटी ने भी अपनी रिपोर्ट दी थी और अंततः फ़िल्म राज्य में रिलीज़ नहीं हो सकी.

सतपाल महाराज को ‘केदारनाथ’ फ़िल्म के नाम पर आपत्ति, यह नाम रखने की दी सलाह

VIDEO: ‘केदारनाथ की महिमा कम करने का षड्यंत्र कर रही है सरकार, माफ़ी मांगे’

फिल्म 'केदारनाथ' पर रोक लगाने की याचिका नैनीताल हाईकोर्ट ने की खारिज 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->