• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • तो पूर्व निर्धारित समयानुसार नहीं खुलेेंगे केदारनाथ के कपाट भी! कपाट खोलने को लेकर मंगलवार सुबह बैठक

तो पूर्व निर्धारित समयानुसार नहीं खुलेेंगे केदारनाथ के कपाट भी! कपाट खोलने को लेकर मंगलवार सुबह बैठक

केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने का नया मुहुर्त मंगलवार सुबह तय होगा. (फ़ाइल फ़ोटो)

केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने का नया मुहुर्त मंगलवार सुबह तय होगा. (फ़ाइल फ़ोटो)

इस बार हालत तो यह हो गई थी कि बदरीनाथ और केदारनाथ के रावलों के धाम तक पहुंचने में ही संदेह पैदा हो गया था.

  • Share this:
देहरादून. बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की नई तारीख आने के बाद अब केदारनाथ धाम के नए कपाट खुलने की तारीख आने का इंतज़ार है. मंगलवार को दोपहर तक नए मुहुर्त का ऐलान किया जा सकता है. केदारनाथ के रावल रुद्रप्रयाग पहुंच चुके हैं और मंगलवार को सुबह साढ़े दस बजे तीर्थ-पुरोहितों और हक-हकूकधारियों की बैठक बुलाई गई है. इसमनें तय किया जाना है कि कपाट परंपरानुसार शिवरात्रि को निकाले गए मुहुर्त के अनुसार 29 अप्रैल को सुबह 6.10 पर ही खोले जाएंगे या बदरीनाथ की तरह नया मुहुर्त निकाला जाए.

'ऑनलाइन पूजा का सुझाव'

कोरोना वायरस, कोविड-19, संक्रमण के कारण चार धाम यात्रा भी बुरी तरह प्रभावित हुई है. इस बार हालत तो यह हो गई थी कि बदरीनाथ और केदारनाथ के रावलों के धाम तक पहुंचने में ही संदेह पैदा हो गया था. इस साल से यात्रा संचालन के लिए गठित देवस्थानम बोर्ड (हालांकि इसे हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है और मामला लंबित है) से सीईओ ने ऑनलाइन पूजा का सुझाव दे डाला था.

चारों ओर से कड़े विरोध के बाद उत्तराखंड सरकार हरकत में आई और केंद्र की अनुमति के साथ बदरीनाथ और केदारनाथ के रावलों को सड़क मार्ग से चमोली और रुद्रप्रयाग लाया गया. कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनज़र दोनों रावल अभी क्वैरेंटाइन हैं. संभवतः इसीलिए बदरीनाथ के कपाट खुलने का मुहुर्त 15 दिन बाद का निकाला गया है.

पूर्व निर्धारित मुहुर्त पर खुलेंगे कपाट! 

केदारनाथ की भी स्थिति कमोबेश यही है. केदारनाथ के रावल भीमाशंकर लिंग भी क्वैरेंटाइन किए गए हैं. इसलिए 29 तारीख को केदारनाथ के कपाट खुलने को लेकर संदेह व्यक्त  किया जा रहा है.  केदारनाथ के मुख्य पुजारी शंकर लिंग ने न्यूज़ 18 को बताया कि मंगलवार सुबह साढ़े दस बजे रावल के साथ तीर्थ-पुरोहितों, हक-हकूकधारियों और ज्योतिषियों की बैठक बुलाई गई है. इसी में केदारनाथ धाम के कपाट खोलने को लेकर फ़़ैसला किया जाएगा.

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि केदारनाथ के कपाट पूर्व निर्धारित मुहुर्त के अनुसार ही खोले जाएंगे या नया मुहुर्त निकाला जाएगा. सूत्रों के अनुसार एक पक्ष नया मुहुर्त निकालने का विरोध कर रहा है और कह रहा है कि परंपरानुसार निकाले गए मुहुर्त पर ही धाम के कपाट खोले जाएं.

हालांकि एक पक्ष कोरोना वायरस संक्रमण से पैदा अभूतपूर्व स्थितियों को देखते हुए स्थितियों पर विचार करने की बात कह रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज