Home /News /uttarakhand /

यह चुनाव मेरा पर्सनल टेस्ट है, 2022 का इंतज़ार करने का समय नहीं थाः हरीश रावत

यह चुनाव मेरा पर्सनल टेस्ट है, 2022 का इंतज़ार करने का समय नहीं थाः हरीश रावत

हरीश रावत

हरीश रावत

कांग्रेस के लिए प्रीतम सिंह का जीतना बहुत अहम है. वह पार्टी वर्तमान सेनापति हैं. पार्टी ने उनको भविष्य के दस-पन्द्रह साल के लिए खड़ा किया है.

    उत्तराखण्ड में लोकसभा के चुनाव खत्म हो गए हैं लेकिन, इसी के साथ एक नई बहस शुरु हो गई है. बहस इस बात की कि हरीश रावत का क्या होगा? हरीश रावत ने न्यूज़ 18 को दिए इंटरव्यू में साफ कहा कि लोग उनकी उम्र को देखकर उनकी ताकत का अंदाजा न लगाएं. रावत ने कहा कि अगर वह चुनाव हार भी गए तो रुकेंगे नहीं, अगली मंज़िल की तरफ़ बढ़ेंगे. मतलब साफ है तीन साल बाद राज्य में होने वाले विधानसभा के चुनाव में हरीश रावत फिर से खम ठोकेंगे. न्यूज़ 18 से बात करते हुए और भी कई मुद्दों पर हरीश रावत ने अपनी राय रखी...

    VIDEO: हरीश रावत ने कहा- कांग्रेस के समर्थक बढ़े और बीजेपी के घटे

    न्यूज़ 18: आपके लिए कितना अहम है चुनाव में जीतना?

    हरीश रावत: चुनाव जीतना अहम तो है ही. मैंने यह टेस्ट करने के लिए चुनाव लड़ा है कि विधानसभा में लोगों ने सोच-विचारकर मुझे रिजेक्ट किया था या फिर मेरी वह हार एक्सीडेण्टल थी. मैंने राज्य में अच्छी सरकार चलाई थी. मैंने समग्र उत्तराखण्डियत की सोच डेवलप की थी. मेरे लिए यह चुनाव पार्टी के साथ साथ मेरा पर्सनल टेस्ट भी है. मेरे पास 2022 तक इंतज़ार करने का समय नहीं था अपने आप को टेस्ट करने का.

    अजय भट्ट छोटे भाई, शुभकामनाएं नहीं दे सकता लेकिन प्यार करता हूं: हरीश रावत

    न्यूज़ 18: यदि हार गए तो आगे चुनाव नहीं लड़ेंगे?

    हरीश रावत: मेरा अपना मानना है कि एक राजनीतिक कार्यकर्ता के बहुत सारे उपयोग होते हैं. हम जीत के साथ बहुत उत्साहित और हार के बहुत निराश होने वाले लोगों में से नहीं हैं. भविष्य बहुत सारे हालात पर निर्भर करता है. राजनीतिक दल के कार्यकर्ता के रूप में आपको एक संघर्ष से दूसरे संघर्ष में जाना पड़ता है. यदि मैं नैनीताल से हार गया तो दूसरे संघर्ष की ओर बढ़ जाऊंगा

    harish rawat nomination

    हरीश रावतन्यूज़ 18: चुनाव के दौरान ऊटपटांग बयानबाजी को कितना गलत मानते हैं?

    हरीश रावत: देखिए चुनाव में हास परिहास चलता रहता है. लेकिन, भाजपा के एक एमएलए ने जो यह कहा कि हरीश रावत तो पहले ही मर गए हैं यहां तो, उनका दाह संस्कार होना बाकी है. यह बयान थोड़ा ज़्यादा था लेकिन मैंने उन्हें माफ कर दिया है.

    न्यूज़ 18: क्या नैनीताल सीट पर भाजपा के अजय भट्ट ने ठाकुर-ब्राह्मण का जातिगत कार्ड खेला?

    हरीश रावत: मैंने इसे स्लिप ऑफ टंग मान लिया. इसीलिए मैंने उस पर कमेण्ट नहीं किया. यदि मैं करता तो यह फीलिंग ज्यादा हो सकती थी. हम सोसायटी को जोड़ते हैं, बांटते नहीं.

    VIDEO: चुनाव के बाद बंदरबाड़े में बंद कर देंगे हरीश रावत कोः कोश्यारी

    न्यूज़ 18: आप इस चुनावी राजनीति में स्लिप ऑफ टंग कैसे मान सकते हैं? क्या अजय भट्ट ने कास्ट कार्ड चला?

    हरीश रावत: (हंसते हुए) कुछ तो रहा होगा. वैसे हमने इसे अपने दिमाग से निकाल दिया था और इसे टिप्पणी के लायक नहीं समझा.

    न्यूज़ 18: प्रीतम सिंह का जीतना कितना अहम है?

    हरीश रावत: कांग्रेस के लिए प्रीतम सिंह का जीतना बहुत अहम है. वह पार्टी के वर्तमान सेनापति हैं. पार्टी ने उनको भविष्य के दस-पन्द्रह साल के लिए खड़ा किया है. ऐसे में उनका जीतना बहुत महत्वपूर्ण है.

    harish rawat (4)
    हरीश रावत


    न्यूज़ 18: जिस तरीके से प्रीतम सिंह अपने बेटे को आगे कर रहे हैं उससे परिवारवाद को लेकर फिर से कांग्रेसियों पर सवाल नहीं खड़े होंगे?

    हरीश रावत: प्रीतम सिंह अपने बेटे की यदि राजनीति में मदद कर रहे हैं तो यह अच्छी बात है और मदद करते-करते उनके बेटे यदि पार्टी के लिए एसेट बनते हैं तो यह अच्छी बात है.

    न्यूज़ 18: कम वोटिंग से क्या कांग्रेस खुश है?

    हरीश रावत: इसके तीन कारण हैं. पहला, मोदी जी की लोकप्रियता का जो ग्राफ 2014 में था उसमें गिरावट आती जा रही है. इस बार मोदी वोट कम हुआ है. दूसरा, मतदाता को राजनीतिक दल उत्साहित नहीं कर पाए और तीसरा बड़ा कारण गर्मी हो सकती है.

    किसी सेक्टर में ग्रोथ नहीं, विकास दर बढ़ने के सरकार के दावे फर्जीः हरीश रावत

    न्यूज़ 18: जिसकी राज्य में सरकार उसकी लोकसभा में होती है हार, इसको कैसे देखते हैं? पिछले दो चुनावों में ऐसा ही रहा है.

    हरीश रावत: सत्ता विरोधी लहर तीन तरह से इस बार उत्तराखण्ड में काम कर रही थी. पहला तो यह मोदी जी के खिलाफ लहर थी. दूसरा, त्रिवेन्द्र सरकार से भी लोग नाराज हैं. नॉरमली तीसरे या चौथे साल में एण्टी इनकम्बेन्सी तैयार होती है लेकिन यहां दूसरे साल से ही लोगों की नाराज़गी बढ़ने लगी है. तीसरा, भाजपा के सांसदों के खिलाफ भी एण्टी इनकम्बेन्सी, मसलन, हरिद्वार में निशंक के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है लोगों में. इसी वजह से कांग्रेस के पक्ष में नतीजे दिखाई दे रहे हैं.

    VIDEO: सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा- हार की हैट्रिक बनाएंगे हरीश रावत

    Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Nainital Udhamsingh Nagar S28p04, North Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Uttarakhand BJP, Uttarakhand Congress, Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर