आपदा के 6 साल बाद केदारनाथ में भारी संख्‍या में उमड़े श्रद्धालु, कमाई के टूट सकते हैं सारे रिकॉर्ड

चारधाम यात्रा पर जून महीने में अगर अलग-अलग धामों में यात्रियों की बात करें तो गंगोत्री में 363878, यमनौत्री में 351728, केदारनाथ में 776765 और बद्रीनाथ में 806915 लोगों ने दर्शन किए हैं.

Robin Singh Chauhan | News18 Uttarakhand
Updated: July 11, 2019, 7:46 PM IST
आपदा के 6 साल बाद केदारनाथ में भारी संख्‍या में उमड़े श्रद्धालु, कमाई के टूट सकते हैं सारे रिकॉर्ड
केदारनाथ में भक्‍तों की संख्‍या और कमाई का बनेगा नया रिकॉर्ड.
Robin Singh Chauhan | News18 Uttarakhand
Updated: July 11, 2019, 7:46 PM IST
केदारनाथ में जून 2013 की आपदा के बाद चारधाम यात्रा बुरी तरह प्रभावित हो गई थी और ऐसा लग रहा था मानो कई सालों तक यात्रा फिर से शुरु नहीं हो पाएगी, लेकिन आस्था के सामने मुश्किलें बौनी साबित हुई. जबकि 6 साल बाद इस बार यात्रा में खूब श्रद्धालु आए हैं, जिसकी वजह से गढ़वाल मण्डल विकास निगम के मुनाफे के रिकॉर्ड भी टूटते दिख रहे हैं.

यात्रियों की संख्‍या के टूटे सारे रिकॉर्ड
चारधाम यात्रा में इस बार यात्रियों की संख्या ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए. जबकि काफी संख्‍या में यात्री केदारनाथ धाम का रुख कर रहे हैं. इस बार केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट खुलते ही 10 मई से यात्रा ने रफ्तार पकड़ ली और इसके बाद हर दिन यात्रियों की संख्या में इजाफा हुआ. स्थित यह रही कि 1 से 10 जून तक चारों धाम और पर्यटन स्थल पैक हो गए. चारधाम रूट पर गढ़वाल मंडल विकास निगम के करीब 55 बंगले फुल हो गए, जिनमें छह हजार लोगों के रहने की क्षमता है. यही नहीं, अकेले केदारनाथ धाम में 2500 की क्षमता है. पूरे दस दिन तक बंगले न केवल फुल रहे बल्कि बुकिंग के पिछले रिकॉर्ड टूट गए. चारधाम यात्रा पर जून महीने में अगर अलग-अलग धामों में यात्रियों
की बात करें तो गंगोत्री में 363878, यमनौत्री में 351728, केदारनाथ में 776765 और बद्रीनाथ में 806915 लोगों ने दर्शन किए हैं.

गढ़वाल मण्डल विकास निगम बनाएगा रिकॉर्ड
इस यात्रा को संचालित करने वाले गढ़वाल मण्डल विकास निगम की कमाई भी नया रिकॉर्ड बनाने वाली है. अभी यात्रा सीजन के 5 महीने बाकी हैं और अब तक निगम का मुनाफा साढे पांच करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. जून महीने में चारधाम यात्रा का टर्नओवर 12 करोड़ रहा. अगर सिर्फ केदारनाथ की बात करें तो धाम का टर्नओवर जून के महीने में 6 करोड़ के आस पास तक पहुंचा गया है. जबकि पिछले साल पूरे सीजन का टर्नओवर ही 5 करोड़ का था. वहीं, गढ़वाल मण्डल विकास निगम के महाप्रबंधक बताते हैं कि निगम की 80 प्रतिशत आय चारधाम यात्रा से होती है, जो कि निगम के लिए अच्‍छी खबर है.

इस साल बढ़ेगी निगम की कमाई
Loading...

इस साल की कमाई का आकलन 60 करोड़ तक रहने वाला है. जबकि पिछले साल निगम को 50 करोड़ की कमाई उनको हुई थी. निगम के महाप्रबंधक पर्यटन बीएल राणा ने कहा, 'उनको आशा है मानसून के बाद सितंबर महीने से एक बार फिर से यात्रा रफ्तार पकडेगी और कमाई के रिकॉर्ड टूटेंगे.

निगम को हो रही बंपर कमाई.


कर्मचारी हुए खुश
इस बार चारधाम यात्रा में यात्रियों और मुनाफे का रिकॉर्ड टूटने से कर्मचारी भी उत्साहित हैं. दरअसल, 2013 की आपदा के बाद से निगम की कमर टूट गई थी और निगम घाटे के दौर से गुजर रहा है. हालात ऐसी है कि कर्मचारियों को वेतन तक नही मिल पा रहा है. जीएमवीएन कर्मचारी यूनियन के उपाध्यक्ष राजेश रमोला ने कहा,' कर्मचारी इस बार बेहद उत्साहित. 2013 की आपदा में निगम को भारी नुकसान हुआ था, लेकिन फिलहाल ये कहा जा सकता है कि निगम के अच्छे दिन आने वाले हैं.

ये भी पढ़ें-यूपी विधानसभा उपचुनाव: अखिलेश यादव का फरमान, SP से टिकट चाहिए तो करना होगा ये काम

देहरादून की जीवनदायिनी सुसवा अब बांट रही है मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 11, 2019, 7:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...