Home /News /uttarakhand /

maheswari sweet shop and chat bhandar is serving dehradun famous mithai chaat samosa from 1940 localuk nodark

'महेश्वरी स्वीट शॉप' पर आएं और लें मिठाई के साथ चाट-समोसे का मजा, 1940 से बरकरार है लाजवाब स्‍वाद

Maheswari Sweet Shop and Chat Bhandar: दुकान मालिक राजकुमार महेश्वरी ने बताया कि उनके परदादा हीरालाल महेश्वरी ने साल 1940 में देहरादून में एक छोटी सी दुकान खोली थी, जिसमें वह मिठाइयां बनाकर बेचते थे. इसके बाद चाट और समोसे बनाए जाने लगे, जो कि लोगों को बहुत पसंद आते हैं.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट-हिना आजमी

देहरादून. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून को दून घाटी भी कहा जाता है. दून घाटी अपनी खूबसूरत वादियों के लिए दुनियाभर में मशहूर है. वहीं यहां के खानपान के मुरीदों की भी कमी नहीं है. आज हम आपको बताने वाले हैं देहरादून की 80 साल से ज्यादा पुरानी उस दुकान के बारे में जिसकी मिठाई, समोसे और चाट लोग कई दशकों से खा रहे हैं. हम महेश्वरी स्वीट शॉप (Maheshwari Sweets Shop in Dehradun) की बात कर रहे हैं.

राजधानी देहरादून स्थित महेश्वरी स्वीट शॉप सन 1940 में शुरू की गई थी. तब से लेकर अब तक इसकी क्वालिटी काफी ज्यादा पसंद की जाती है. खासकर इसके समोसे और चाट लोगों को काफी पसंद आती है.

1940 में ऐसे हुई शुरुआत
दुकान मालिक राजकुमार महेश्वरी ने बताया कि उनके परदादा हीरालाल महेश्वरी ने साल 1940 में देहरादून में एक छोटी सी दुकान खोली थी, जिसमें वह मिठाइयां बनाकर बेचते थे. इसके बाद महेश्वरी स्वीट शॉप में चाट और समोसे बनाए जाने लगे, जो अब तक लोगों को उतने ही पसंद हैं. आज भी लोग दूर-दूर से उनकी मिठाई और चाट-समोसे खाने आते हैं.

दुकान पर आए ग्राहक वीके गोयल ने बताया कि वह 1978 में देहरादून आए थे, तब से वह महेश्वरी स्वीट्स शॉप से ही मिठाई खा रहे हैं. वहीं, योगेश चालगा ने बताया कि वह पिछले 8-10 सालों से महेश्वरी स्वीट्स शॉप की मिठाई और चाट खा रहे हैं. वह चाट खाने के लिए अपनी फैमिली के साथ यहां आते हैं.

देहरादून की महेश्वरी स्वीट शॉप का पता
राजधानी देहरादून के करनपुर में महेश्वरी स्वीट्स शॉप स्थित है. आप यहां परिवार के साथ आकर चाट, समोसे और लाजवाब मिठाई का स्वाद ले सकते हैं. ज्यादा जानकारी के लिए आप इस नंबर 9358100587 पर संपर्क कर सकते हैं.

Maheswari Sweet Shop and Chat Bhandar

Tags: Chaat, Dehradun news, Street Food

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर