पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल थी ये गुफ़ा, अब आप भी लगा सकते हैं इनमें ध्यान

जीएमवीएन की साइट से इन गुफ़ाओं को 990 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से ऑनलाइन बुक किया जा सकता है.

News18 Uttarakhand
Updated: May 19, 2019, 3:41 PM IST
पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल थी ये गुफ़ा, अब आप भी लगा सकते हैं इनमें ध्यान
जीएमवीएन से इन ध्यान गुफ़ाओं की ऑनलाइन बुकिंग करवाई जा सकती है.
News18 Uttarakhand
Updated: May 19, 2019, 3:41 PM IST
केदारनाथ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस गुफा में शनिवार से ध्यान लगाया, उसमें आप भी रह सकते हैं. जी हां मात्र 990 रुपये का भुगतान कर इस गुफ़ा में एक दिन के लिए रहा जा सकता है और प्रकृति के बीच होने का अनूठा अहसास लिया जा सकता है. ख़ास बात यह भी है कि पहाड़ में बनी इन (अभी दो तैयार हैं) गुफ़ाओं में शौचालय, बिजली पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं मौजूद हैं.

केदारनाथ की गुफा में 18 घंटे साधना के बाद बोले मोदी- मैं भगवान से कुछ नहीं मांगता



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूं ही अचानक गुफ़ा में ध्यान लगाने नहीं पहुंच गए थे. केदारपुरी के पुनर्निर्माण के अपने ड्रीम प्रोजेक्ट में प्रधानमंत्री ने मंदिर के ऊपर मौजूद गुफ़ाओं को ध्यान के लिए तैयार करने के निर्देश भी दिए थे. ज़िला प्रशासन के इस प्रोजेक्ट को अब जीएमवीएन चला रहा है. पांच गुफ़ाओं का चयन किया गया है, जिनमें से दो तैयार हो गई हैं.

केदारनाथ में व्यस्त सुबह के बाद PM मोदी ने पवित्र गुफा में लगाया ध्यान

केदारनाथ से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर चौराबाड़ी ताल की तरफ़ ये गुफाएं बनाई गई हैं. एक गुफ़ा 12 फीट लम्बी और 8 फीट चौड़ी है. इसमें आराम के लिए गद्दा लगाया गया है. बिजली-पानी उपलब्ध तो है ही, 4 फ़ीट का टॉयलेट-बाथरूम भी है. खाने-पीने की चीज़ें यहां जीएमवीएन मुहैया करवाएगा जिससे संपर्क के लिए यहां डीएसपीटी फोन भी लगाया जा रहा है.

जीएमवीएन की साइट से इन गुफ़ाओं को ऑनलाइन बुक किया जा सकता है.

PHOTOS: केदारनाथ की गुफा में साधना के बाद बर्फीले रास्तों पर ऐसे घूमते रहे मोदी
Loading...

VIDEO: जल्द ही बाबा केदार का ध्यान करें केदारनाथ के ऊपर गुफ़ा में बैठकर

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...