लाइव टीवी

घट रही है उत्तराखंड के बॉर्डर ब्लॉक में आबादी, बढ़ी सुरक्षा एजेंसियों की चिंता

News18 Uttarakhand
Updated: October 8, 2019, 10:56 PM IST
घट रही है उत्तराखंड के बॉर्डर ब्लॉक में आबादी, बढ़ी सुरक्षा एजेंसियों की चिंता
इस इलाके में घटती आबादी ने सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ा दी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तराखंड (Uttarakhand) में एक तरफ पंचायत चुनाव हो रहा है तो दूसरी तरफ राज्य के बॉर्डर ब्लॉक (Border Blocks) में लोग पलायन कर रहे हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में एक तरफ पंचायत चुनाव हो रहा है तो दूसरी तरफ राज्य के बॉर्डर ब्लॉक (Border Blocks) में लोग पलायन कर रहे हैं. इस इलाके में घटती आबादी ने सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ा दी है. दरसअल खाली होने वाले चारों ब्लॉक चीन बॉर्डर से लगते हैं, जिस पर अब सरकार एक्शन प्लान तैयार कर रही है.

कई गांव हुए खाली
इस मामले में पलायन आयोग के उपाध्यक्ष एस.एस. नेगी का कहना है कि उत्तराखंड के 4 ब्लॉक भटवाड़ी, जोशीमठ, मुन्ययारी और धारचूला में गांव खाली हो रहे हैं. जिसे लेकर हाल ही में दिल्ली में पलायन आयोग की बैठक भी हुई थी. सरकार इसे लेकर एक्शन प्लान तैयार कर रही है. वहीं रक्षा विशेषज्ञ कर्नल एन एस बिष्ट का कहना है कि हालात को देखते हुए बॉर्डर के गांवों में सड़क और मोबाइल नेटवर्क दुरुस्त करना होगा ताकि लोग वहां रहें.

क्या बोले सीएम

मामले में राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है कि बॉर्डर के गांव में पलायन रोकने के पूरे प्रयास सरकार कर रही है. चीन की गतिविधियों से भारत अच्छी तरह वाकिफ है. इसलिए उत्तराखंड के बॉर्डर ब्लॉक को सुरक्षित करने की चिंता दिल्ली से लेकर देहरादून तक है, जिसके एक्शन प्लान पर काम शुरू हो चुका है.

(दीपांकर भट्ट की रिपोर्ट)
ये भी पढ़ें:

Loading...

BJP विधायक बोले, कहा- 'मेरे विधानसभा क्षेत्र में 52 प्रतिशत पाकिस्तान की आबादी

तीन पीढ़ियों से रामलीला में हिस्सा ले रहा है पाकिस्तान से आया रिफ्यूजी परिवार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2019, 10:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...