लाइव टीवी

इन गाड़ियों पर लागू नहीं होता मोटर व्हीकल एक्ट! 8 महीने से देहरादून में घूम रहीं बिना रजिस्ट्रेशन

satendra bartwal | News18 Uttarakhand
Updated: November 13, 2019, 2:19 PM IST
इन गाड़ियों पर लागू नहीं होता मोटर व्हीकल एक्ट! 8 महीने से देहरादून में घूम रहीं बिना रजिस्ट्रेशन
देहरादून नगर-निगम की घर-घर से कूड़ा उठाने वाली गाड़ियां सात-आठ महीने से बिना रजिस्ट्रेशन के दौड़ रही हैं.

कूड़ा उठाने की गाड़ियों का संचालन करने वाली कम्पनी का कहना है कि उन्होंने कुछ गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन के पैसे जमा कर दिए हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act) में कानून तोड़ने पर जुर्माना सिर्फ़ आम लोगों पर लगता है. खास लोगों या सरकारी सिस्टम में लगी गाड़ियों पर यह कानून लागू ही नहीं होता. कम से कम देहरादून नगर निगम (Dehradun Municipal Corporation) में कूड़ा उठाने के लिए लगी गाड़ियों पर तो यह नियम लागू नहीं होता. अस्थाई राजधानी देहरादून (Temporary Capital Dehradun) में जहां सभी बड़े अधिकारी और मंत्री बैठते हैं वहां 100 से ज़्यादा गाड़ियां बिना नंबर के सड़कों पर दौड़ रही हैं.

रजिस्ट्रेशन के पैसे जमा किए कंपनी ने 

बिना रजिस्ट्रेशन के सड़क पर गाड़ी चलाने पर 5000 रुपये के चालान के साथ ही गाड़ी सीज़ की जा सकती है. लेकिन देहरादून नगर-निगम की घर-घर से कूड़ा उठाने वाली गाड़ियां सात-आठ महीने से बिना रजिस्ट्रेशन के दौड़ रही हैं.

बता दें कि इसी साल मार्च में नगर-निगम ने करीब 100 गाड़ियां खरीदी थीं. आठ महीने बाद भी ये शहर भर में बिना रजिस्ट्रेशन नंबर या नंबर प्लेट के ही घूम रही हैं. हालांकि नगर निगम के लिए कूड़ा उठाने की गाड़ियों का संचालन करने वाली कम्पनी का कहना है कि उन्होंने कुछ गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन के पैसे जमा कर दिए हैं और अब गेंद उनके पाले में नहीं है.

निर्देश दिए और भूल गए 

मज़ेदार बात यह है कि परिवहन विभाग को अभी तक इस बारे में ठीक-ठीक जानकारी नहीं है. देहरादून के आरटीओ दिनेश पठोई कहते हैं कि उन्हें इस बारे में पता तो है और वह मातहत अधिकारी को इस बारे में कार्रवाई करने को कह चुके हैं. न्यूज़ 18 के सवाल के जवाब में पठोई कहते हैं कि वह एक बार फिर पता करेंगे कि इस मामले में क्या हुआ.

पहले भी मीडिया के दखल के बाद ही आरटीओ को इस बारे में पता चला था. उन्होंने मातहत अधिकारी को निर्देश दिए और भूल गए. अब फिर वह इस बारे में पता करने की बात कर रहे हैं और शहर में कूड़ा उठाने वाली गाड़ियां बिना किसी पहचान के घूम रही हैं.
Loading...

ये भी देखें: 

देहरादून में ऋषिकेश रिपीट करने की तैयारी… विभाग करे अतिक्रमण, कीमत चुकाएं लोग 

देहरादून नगर निगम के लिए OUTSIDER हैं उत्तराखंड के मूल निवासी 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 2:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...