28 जुलाई को पर्वतीय राज्यों की समस्याओं के समाधान के लिए करेंगे मंथन- सीएम

आगामी 28 जुलाई 2019 को उत्तराखण्ड में पर्वतीय राज्यों की समस्याओं को लेकर मंथन किया जायेगा. इसमें पर्वतीय राज्यों के मुख्यमंत्री, वित्त आयोग के अध्यक्ष, नीति आयोग के उपाध्यक्ष, प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, विषय विशेषज्ञ व ब्यूरोक्रेट प्रतिभाग करेंगे.

Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: July 12, 2019, 3:02 PM IST
28 जुलाई को पर्वतीय राज्यों की समस्याओं के समाधान के लिए करेंगे मंथन- सीएम
सीएम ने कहा कि वित्त आयोग को हिमालयी राज्यों की समस्याओं को जानने का मौका मिलेगा
Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: July 12, 2019, 3:02 PM IST
आगामी 28 जुलाई 2019 को उत्तराखण्ड में पर्वतीय राज्यों की समस्याओं को लेकर मंथन किया जाएगा. इसमें पर्वतीय राज्यों के मुख्यमंत्री, वित्त आयोग के अध्यक्ष, नीति आयोग के उपाध्यक्ष, प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, विषय विशेषज्ञ व ब्यूरोक्रेट प्रतिभाग करेंगे. यह कार्यक्रम हिमालयी राज्यों पर अध्ययन करने वाली संस्था आईएमआई के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है. इस बारे में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जानकारी देते हुआ कहा कि इस दौरान हिमालयी राज्यों की समस्याओं व उनके समाधान के लिए गहनता से मंथन किया जायेगा. वित्त आयोग को हिमालयी राज्यों के बारे में और अधिक निकटता से जानकारी मिल सकेगी.

मंथन में नीति आयोग के उपाध्यक्ष भी होंगे शामिल




नीति बनाने में होगी आसानी

मुख्यमंत्री ने कहा कि नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने भी पर्वतीय राज्यों के इस मंथन में शामिल होने पर सहमति दी है. नीति आयोग व वित्त आयोग को हिमालयी राज्यों की समस्याओं एवं व वास्तविक स्थिति को जानने का मौका मिलेगा. इससे हिमालयी राज्यों के लिए नीति बनाने में आसानी रहेगी.

ये भी पढ़ें - मेरी शिकायत सोशल मीडिया पर नहीं, राहुल गांधी से करें- प्रीतम

ये भी देखें - पिथौरागढ़: यूं जान जोखिम में डालकर पार कर रहे हैं दरिया
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...