लाइव टीवी

नशाखोरी के अड्डे बन गए हैं मसूरी के पर्यटन स्थल... पुलिस कह रही कि पहले से बेहतर है स्थिति

News18 Uttarakhand
Updated: October 14, 2019, 3:28 PM IST
नशाखोरी के अड्डे बन गए हैं मसूरी के पर्यटन स्थल... पुलिस कह रही कि पहले से बेहतर है स्थिति
मसूरी में बाहर से घूमने के लिए आने वाले कई ऐसे लोग हैं जिन्होंने शहर के पर्यटक स्थलों को शराब और असामाजिक गतिविधियों का अड्डा बना दिया है.

मसूरी के पर्यटन स्थलों में पहले भी शराब पीकर मारपीट करने की कई घटनाएं सामने आई हैं.

  • Share this:
मसूरी. पहाड़ों की रानी मसूरी (Mussoori) शहर के पर्यटक स्थल (Tourist Place) असमाजिक लोगों (Antisocial elemant) के अड्डे बनते जा रहे हैं. मसूरी में हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं और पहों की रानी की ख़ूबसूरती का आनंद लेते हैं. लेकिन बाहर से घूमने के लिए आने वाले कई ऐसे लोग हैं जिन्होने शहर के पर्यटक स्थलों को शराब (Liquor) और असामाजिक गतिविधियों का अड्डा बना दिया है. पुलिस (Mussorie Police) गश्त करने की बात कर रही है लेकिन असमाजिक गतिविधियां कम नहीं हो रही हैं. इससे मसूरी के स्थानीय लोग (Local Residents) और पर्यटन व्यवसायी (Tourism Industry) चिंतित हैं.

नशाखोरी और अश्लील हरकतें 

मसूरी शहर के नाग मंदिर और हाथी पांव क्षेत्र में असमाजिक लोगों की बढ़ती संख्या से स्थानीय लोग चितिंत है. हाथी पांव में स्थित खंडहर बाहरी लोगों के शराब और अय्याशी के अडडे बन गए हैं. न्यूज 18 के कैमरे में कुछ ऐसी तस्वीरें कैद हुई है जिसमें साफ देखा जा सकता है किस तरह लोग पर्यटक स्थलों में खुलेआम शराब पी रहे हैं.

mussoorie, हर साल मसूरी लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं,
हर साल मसूरी लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं,


न सिर्फ़ नशाखोरी यहां युवक–युवतियां अश्लील हरकतें नज़र आ जाते हैं. इनकी इन हरकतों की वजह से इस क्षेत्र में आम पर्यटक नहीं जा सकते. स्थानीय लोग कहते हैं कि शहर के पर्यटक स्थलों की स्थिति ठीक नहीं है.

पुलिस के लिए अच्छी है स्थिति 

पुलिस प्रशासन का कहना इसके विपरीत है. मसूरी की शहर कोतवाल भावना कैंथोला कहती हैं कि सप्ताह में एक-दो बार क्षेत्र में गश्त की जाती है. पहले बहुत लोग नशा करते पाए जाते थे लेकिन स्थिति थोड़ी बेहतर हुई है. अब कम लोग नशा करते दिखते हैं.
Loading...

mussoorie nasha, हाथी पांव में स्थित खंडहर बाहरी लोगों के शराब और अय्याशी के अडडे बन गए हैं.
हाथी पांव में स्थित खंडहर बाहरी लोगों के शराब और अय्याशी के अडडे बन गए हैं.


पर्यटक स्थलों में शराब पीकर हुड़दंग करना, खुलेआम शराब पीना आम बात हो गई है. मसूरी के पर्यटन स्थलों में पहले भी शराब पीकर मारपीट करने की कई घटनाएं सामने आई हैं. इसकी वजह से इन क्षेत्रों में आम पर्यटक अपने परिवार के साथ जाने से बचने लगे हैं. स्थानीय निवासियों और पर्यटन व्यवसाइयों की चिंता यही है कि अगर हालात पर काबू नहीं पाया गया तो आने वाले समय में शहर के पर्यटन व्यवसाय पर भी असर पड़ना तय है.

(मसूरी से सुनील सिलवाल की रिपोर्ट)

ये भी देखें: 

उत्तराखंड को नहीं चाहिए ऐसे उत्पाती टूरिस्ट

दून-मसूरी की कैरिंग कैपेसिटी ही पता नहीं MDDA को, पर्यटन सीज़न में कैसे होंगे इंतज़ाम 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 3:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...