मसूरी के कश्मीरी व्यापारियों ने किया सरकार के फ़ैसले का स्वागत, कही यह बड़ी बात

कश्मीरी दुकानदारों का कहना है कि भारत सरकार का निर्णय सबके हित में है लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि लद्दाख को अलग नहीं करना चाहिए था.

silwal sunil | News18 Uttarakhand
Updated: August 5, 2019, 2:25 PM IST
मसूरी के कश्मीरी व्यापारियों ने किया सरकार के फ़ैसले का स्वागत, कही यह बड़ी बात
केन्द्र सरकार के जम्मू कश्मीर से धारा 370 के दो प्रावधान ख़त्म करने और 35ए को हटाने के फैसले का मसूरी में रहने वाले कश्मीरी लोगों ने स्वागत किया है.
silwal sunil | News18 Uttarakhand
Updated: August 5, 2019, 2:25 PM IST
केन्द्र सरकार के जम्मू कश्मीर से धारा 370 के दो प्रावधान ख़त्म करने और 35ए को हटाने के फैसले का मसूरी में रहने वाले कश्मीरी लोगों ने स्वागत किया है. मसूरी में लंबे समय से कश्मीरी व्यापारी  रहते हैं और मूलतः कपड़ों का व्यवसाय करते हैं. केंद्र सरकार के कश्मीर को लिए गए ऐतिहासिक फ़ैसले पर इन लोगों ने कहा कि सरकार ने जो किया है वह सही ही किया है. हालांकि इनकी बातचीत से साफ ज़ाहिर हुआ कि अभी इन्हें इस मामले की ज़्यादा जानकारी नहीं है.

लद्दाख को साथ रहने देते 

यह बता देना भी ज़रूरी है कि बता दें कि पुलवामा हमले के बाद जब देहरादून के कुछ कश्मीरी छात्र-छात्राओं ने पाकिस्तान के समर्थन में टिप्पणी कर दी थी तो उसका विरोध मसूरी के दुकानदारों को भी झेलना पड़ा था. भाजयुमो ने तो कश्मीरियों को मसूरी से बाहर करने के लिए अभियान भी छेड़ दिया था.

मंजूर अहमद सालों से मसूरी में व्यापार कर रहे हैं. वह कहते हैं कि केन्द्र सरकार ने जो भी फैसला किया है वह ठीक है. भारत सरकार का निर्णय सबके हित में है लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि लद्दाख को अलग नहीं करना चाहिए था.

कश्मीर के कुपवाड़ा निवासी व्यापारी गुलाम नबी लोन और मुश्ताक अहमद का कहना है कि जो भी हुआ वह ठीक हुआ है. केन्द्र का फैसला कश्मीर के हित में हुआ है.

यह भी पढ़ें:

देहरादून में कश्मीरी छात्र-छात्राओं के फ़ोन हुए बंद, डीएम ने मांगी इंटेलिजेंस से रिपोर्ट
Loading...

कश्मीर की स्थिति पर उत्तराखंडियों की भी है नज़र... ताज़ा हालात पर यह कहा लोगों ने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 2:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...