उत्तराखंड में राम भरोसे है ये चौकी, पुलिस रहती नहीं और अपराधी बेलगाम

उत्तराखंड सीमा की सबसे संवेदनशील सनेह चौकी की सुरक्षा भगवान भरोसे है.
उत्तराखंड सीमा की सबसे संवेदनशील सनेह चौकी की सुरक्षा भगवान भरोसे है.

उत्तराखंड में एक ऐसी पुलिस चौकी है जहां पुलिसकर्मी मौजूद नहीं रहते. राम भरोसे छोड़े गए इस चौकी पर पुलिसकर्मियों के नदारद रहने से अपराधी प्रदेश में आराम से प्रवेश कर सकते हैं.

  • Share this:
कोटद्वार. उत्तराखंड में एक ऐसी पुलिस चौकी है जहां पुलिसकर्मी मौजूद नहीं रहते. स्थानीय लोगों का कहना है कि राम भरोसे छोड़े गए इस चौकी पर पुलिसकर्मियों के न रहने से अपराधी आराम से प्रवेश कर सकते हैं. इस कारण स्थानीय लोगों में भय का माहौल बना रहता है. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की सीमा पर बनी कौड़िया चेकपोस्ट के बाद सनेह चौकी (Sneh Police Outpost) सबसे संवेदनशील चौकी मानी जाती है. यूपी (UP) के जंगलों से सटे होने के कारण इस इलाके में पुलिस को लगातार चौकस रहना पड़ता है. स्थानीय लोगों का आरोप है कि इस इलाके से बड़े पैमाने पर कच्चे शराब की लगातार आपूर्ति होती है.

अपराधी आसानी से कर सकते हैं एंट्री

जिले की इस चौकी के पास पुलिस ने बेरिकेड्स लगाए हुए हैं, लेकिन कम संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं, जिसकी वजह से अच्छे तरीके से चेकिंग नहीं हो पाती है. बताया जाता है कि यह इलाका जंगल के पास है. प्रदेश में आने के लिए अपराधी इस रास्ते का इस्तेमाल करते हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार, सनेह चौकी पर एक दारोगा की भी तैनाती है, लेकिन उनकी ड्य़ूटी वीआईपी गतिविधियों में लगी रहती है. स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां तैनात दारोगा चौकी पर कभी-कभार ही नजर आते हैं.



लोगों में है आक्रोश
स्थानीय लोगों ने बताया कि इस रास्ते से उत्तराखंड में अपराधियों की बेरोकटोक एंट्री होती है, जिसके कारण यहां की शांति व्यवस्था को खतरा है. स्थानीय लोगों ने कहा कि कई बार पुलिस को इस बारे में कहा भी गया, लेकिन वरीय पुलिस पदाधिकारियों ने इस मामले में अबतक कोई भी कदम नहीं उठाया है.

बढ़ रही हैं आपराधिक घटनाएं
सनेह निवासी चंद्रेश लखेड़ा का कहना है कि पुलिस की लापरवाही के कारण इलाके में आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. इलाके में स्मैक के कारोबार पर रोकथाम नहीं लगाई जा सकी. उन्होंने कहा कि पुलिस चौकी को अपग्रेड करने की जरूरत है, साथ ही इलाके में लगातार पुलिस गश्त की जरूरत है.

क्षेत्राधिकारी बोले- जल्द की जाएगी व्यवस्था
इधर, पुलिस अधिकारियों का भी मानना है कि बॉर्डर की चौकी होने के साथ ही यह जंगल के पास है, जिसका लाभ अपराधी उठा सकते हैं. लेकिन इस तरह की घटनाएं रोकने के लिए पुलिस लगातार प्रयास कर रही है. इस मामले में कोटद्वार के क्षेत्राधिकारी ने कहा कि सनेह चौकी काफी संवेदनशील चौकी है. उन्होंने कहा कि बेरिकेड्स पर चेकिंग के लिए समुचित पुलिसकर्मियों की व्यवस्था की जा रही है, जिससे अपराधियों में खौफ बना रहे.

ये भी पढ़ें:

उत्‍तराखंड में ITBP के 2 जवानों ने 'भालू' बनकर भगाए कैंप से बंदर, देखें VIDEO

CM के माला पहनकर आने पर बवाल, प्रीतम सिंह ने जताया ऐतराज तो कौशिक ने दी चुनौती

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज