Home /News /uttarakhand /

टैक्स वसूली के लिए अब छापेमारी करेगा विभाग

टैक्स वसूली के लिए अब छापेमारी करेगा विभाग

पिछले वर्ष के मुकाबले चालू वित्त वर्ष के टैक्स वसूली के टारगेट में करीब 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी करते हुए 6200 करोड़ रुपए राजस्व वसूली का लक्ष्य रखा गया था

पिछले वर्ष के मुकाबले चालू वित्त वर्ष के टैक्स वसूली के टारगेट में करीब 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी करते हुए 6200 करोड़ रुपए राजस्व वसूली का लक्ष्य रखा गया था

पिछले वर्ष के मुकाबले चालू वित्त वर्ष के टैक्स वसूली के टारगेट में करीब 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी करते हुए 6200 करोड़ रुपए राजस्व वसूली का लक्ष्य रखा गया था

उत्तराखंड का वाणिज्य कर विभाग टैक्स वसूली के अभियान में ढीला पड़ता दिखाई दे रहा है. इस वर्ष वाणिज्य कर का 6 हजार 200 करोड़ रुपए का टैक्स वसूली का टारगेट था, लेकिन पिछले ताजा आंकड़ों के हिसाब से 5 हजार करोड़ की वसूली ही हो पाई है. जबकि मार्च क्लोजिंग का समय नजदीक आता जा रहा है.


राज्य के टैक्स विभाग पर वाणिज्य कर के अलावा स्टाम्‍प और रजिस्ट्रेशन से मिलने वाले राजस्व का भी जिम्मा है. पिछले वर्ष के मुकाबले चालू वित्त वर्ष के टैक्स वसूली के टारगेट में करीब 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी करते हुए 6200 करोड़ रुपए राजस्व वसूली का लक्ष्य रखा गया था. लेकिन पिछली तिमाही की रिपोर्ट के हिसाब से करीब 5000 करोड़ रुपए वसूली ही हो पाई है.


प्रदेश के टैक्स कमिश्नर दिलीप जावलकर का कहना है कि आंकड़ों के हिसाब से टैक्स वसूली का अभियान ठीक चल रहा है क्योंकि वित्तीय वर्ष समाप्त होते होते यानि मार्च क्लोजिंग से पहले टारगेट हासिल करते हुए दस फीसदी बढ़ोत्तरी के हिसाब से टैक्स वसूल कर लिया जाएगा.


इसके अलावा स्टाम्‍प और रजिस्ट्रेशन शुल्क के तौर पर मिलने वाले राजस्व को लेकर टैक्स डिपार्टमेंट काफी अश्वस्त नजर आ रहा है. टैक्स कमिश्नर का कहना है कि इस वर्ष राज्य सरकार ने स्टाम्‍प और रजिस्ट्रेशन के जरिये मिलने वाले टैक्स में करीब 20 फीसदी बढ़ोत्तरी का लक्ष्य दिया गया था,  जिसको हासिल करते हुए 20 फीसदी बढ़ोत्तरी की स्पीड से राजस्व हासिल कर लिया गया है.


मार्च क्लोजिंग के चलते टैक्स चोरी रोकने और राजस्व वसूली के लिए टैक्स डिपार्टमेंट ने अभियान चलाने की तैयारी कर ली है. इसके लिए छापामार टीमों के साथ साथ फील्ड में रहकर कर चोरी के मामले पकड़ने वाली टीमों को सख्त निर्देश दिए गए हैं.


टैक्स कमिश्नर दिलीप जावलकर का कहना है कि टैक्स के रूप में मिलने वाले राजस्व की पूरी वसूली के लिए अधिकारियों के साथ बैठक करके निर्देशित कर दिया गया है.


Tags: Commercial Tax Department, Dehradun news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर