Corona से जंग के बीच उत्तराखंड में बड़े प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर कांग्रेस-बीजेपी में तकरार
Dehradun News in Hindi

Corona से जंग के बीच उत्तराखंड में बड़े प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर कांग्रेस-बीजेपी में तकरार
त्रिवेंद्र सरकार जल्द पूरे हो रहे राज्य के बड़े प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करना चाहती है. कांग्रेस को इस पर ऐतराज़ है.

उत्तराखंड में 2022 के चुनाव से पहले प्रदेश में चल रहे बड़े प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस का हमला. बीजेपी बोली- कांग्रेस ने बिना प्लानिंग किए शिलान्यास.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में सरकार का करीब डेढ़ साल का वक्त बचा है. ऐसे में ऋषिकेश रेलवे स्टेशन, टिहरी के डोबरा चांठी पुल, ऑल वेदर रोड जैसे बड़े कामों का लोकार्पण त्रिवेंद्र सरकार (Trivendra Govt) अपने हाथों करना चाहती है, ताकि इन सबका फायदा उसे 2022 विधानसभा चुनाव में मिल जाए. लेकिन कांग्रेस (Congress) को यह फ़ैसला रास नहीं आ रहा. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह (Preetam Singh) का कहना है कि रेल लाइन हो या ऑल वेदर रोड (All Weather Road) बड़ी योजनाओं का शिलान्यास उनकी सरकार में हुआ था. अब बीजेपी उद्घाटन करके क्रेडिट अपने नाम करना चाहती है और यह दिखाना चाहती है सब काम इन्होंने ही किया है.

सैन्य धाम की तैयारी

क्रेडिट को लेकर चल रही इस खींचतान के बीच राज्य सरकार के सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने कहा है कि कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में 100 रुपए से लेकर 1000 रुपए में हज़ारों शिलान्यास किए, लेकिन कोई प्लानिंग नहीं की. इसलिए काम पूरे होने का क्रेडिट बीजेपी को ही मिलना चाहिए.



अप्रैल 2019 में पीएम नरेंद्र मोदी ने चारधाम से अलग उत्तराखंड में पांचवां धाम सैन्य धाम बताया था. उसी सैन्य धाम के लिए देहरादून में ज़मीन तय कर ली गई है. सीएम त्रिवेंद्र रावत (CM TS Rawat) ने कहा कि कोरोना की वजह से सैन्य धाम के शिलान्यास में देरी हुई है. अब पंचम धाम के नाम से भव्य शौर्य स्थल बनेगा.

बातें ही बातें, फंड कहां है?

देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी का बताया हुआ सैन्य धाम देहरादून में बनाने के लिए ज़मीन ढूंढी जा चुकी है. अब इसके लिए पैसे की ज़रूरत है जिसके लिए राज्य सरकार को डिमांड कर दी गई है. पैसा मिलते ही काम शुरु हो जाएगा.

दूसरी ओर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह का कहना है कि सरकार बातें तो खूब कर रही है लेकिन सैन्य धाम के लिए फंड की कोई व्यवस्था नहीं की गई है. वह बीजेपी सरकार को जन भावनाओं से खेलने का आरोप लगाते हैं. प्रीतम सिंह का कहना है कि सरकार को लोगों की भावनाओं से कोई लेना-देना नहीं है. वह भी उस प्रदेश के लोगों की जिसके ज़्यादातर लोगों का ताल्लुक सेना से है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading