महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए एक साल में उठाए कई कदमः रेखा आर्या

सरकार के एक साल पूरा होने की खुशी में 18 मार्च को जश्न मनाने की तैयारी कर रही है भाजपा.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 14, 2018, 5:05 PM IST
महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए एक साल में उठाए कई कदमः रेखा आर्या
रेखा आर्या, महिला एवं बाल विकास मंत्री, उत्तराखंड सरकार.
ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 14, 2018, 5:05 PM IST
उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सरकार 18 मार्च को अपना एक साल पूरा कर रही है. एक साल पूरा होने की खुशी में भाजपा 18 मार्च को जश्न मनाने की तैयारी कर रही है. पर्वतीय राज्य उत्तराखण्ड में घर हो या बाहर दोनों जगह पर सामन्जस्य बैठाने में महिलाएं का बड़ा योगदान माना जाता है, इसलिए महिलाओं को प्रदेश की रीढ़ माना जाता है. त्रिवेंद्र कैबिनेट में एकमात्र महिला मंत्री रेखा आर्या के पास प्रदेश की रीढ़ को सम्भालने की जिम्मेदारी है.

रेखा आर्या ने न्यूज 18 को बताया कि प्रदेश में लिंगानुपात एक सबसे बड़ी समस्या बनी है. जिससे पार पाना सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती बनी हुई है. उन्होंने कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं. उन्होंने बताया कि एकल महिलाओं के लिए हमने एक प्रतिशत ब्याज पर ऋण देने की योजना बनाई है.

रेखा आर्या ने बताया कि सरकार ने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अनेक प्रकार के कार्यक्रम शुरू किए हैं, जो पूर्ववर्ती सरकार ने कभी सोचा भी नहीं था. सरकार ने महिलाओं को 50 हजार रुपये का अनुदान देकर महिलाओं को ई रिक्शा मुहैया करवाये हैं ताकि महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त हो पाएं.

प्रदेश के विकास में तमाम समस्याएं हैं. जिसमें पलायन एक सबसे बड़ा मुद्दा है. जिसके लिए मत्स्य पालन से लेकर बकरी पालन तक में सरकार महिलाओं को जोड़ने का प्रयास कर रही है, लेकिन पहाड़ की महिलाओं को मुख्यधारा में लाना अभी भी सबसे बड़ी चुनौती दिखती है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर