ऋषिकेश में परशुराम जयंती समारोह शुरू, परशुराम चौक की बाउंड्री वॉल बनवाएंगे अग्रवाल

अग्रवाल ने कहा कि समाज की युवा पीढ़ी को चाहिए कि वह आपसी बैर भाव, ईष्या आदि का परित्याग करके नए अध्याय की शुरुआत करें.

News18 Uttarakhand
Updated: April 17, 2018, 4:43 PM IST
ऋषिकेश में परशुराम जयंती समारोह शुरू, परशुराम चौक की बाउंड्री वॉल बनवाएंगे अग्रवाल
भगवान परशुराम जयंती समारोह का शुभारंभ उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने किया. ऋषिकेश में परशुराम जयंती समारोह का शुभारंभ किया.
News18 Uttarakhand
Updated: April 17, 2018, 4:43 PM IST
परशुराम महासभा ऋषिकेश के तत्वावधान में व्यापार सभा भवन में आयोजित भगवान परशुराम जयंती समारोह का शुभारंभ उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने किया. इस मौक़े पर अग्रवाल ने विधायक निधि से परशुराम चौक पर बाउंड्री वॉल बनाने की घोषणा भी की.

कृष्णायन गौशाल हरिद्वार के अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी ईश्वर दास महाराज के नेतृत्व में परशुराम जयंती को श्रद्धा और उत्साह के मनाया गया. इस अवसर पर अग्रवाल ने कहा कि अक्षय तृतीया को परशुराम जयंती के रूप में भी मनाया जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन दिए गए पुण्य का प्रभाव कभी खत्म नहीं होता.

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि भगवान परशुराम विष्णु के छठे अवतार हैं और इनकी गणना सात चिरंजीवियों में होती है. भगवान परशुराम तथा अन्य महापुरुष किसी एक विशेष जाति या संप्रदाय के नहीं होते है. उन्होंने कहा कि जिस प्रकार चींटी संगठित होकर बड़े से बड़ा कार्य करती है. ठीक उसी प्रकार समाज के लोगों को संगठित होना चाहिए, तभी समाज का भला होगा.

अग्रवाल ने कहा कि भगवान परशुराम ने समाज में अत्याचार का नाश करने के लिए फरसा उठाया और दुष्टों का नाश किया था. ऐसे ही समाज की युवा पीढ़ी को चाहिए कि वह आपसी बैर भाव, ईष्या आदि का परित्याग करके नए अध्याय की शुरुआत करें.

इस अवसर पर महासभा अध्यक्ष सरोज डिमरी, विशिष्ट अतिथि हरीश धींगडा, पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष दीप शर्मा, मोहन लाल शर्मा, डीके शर्मा, कुसुम कंडवाल, सतीश दुबे, लक्ष्मीनारायण जुगरान, संजय शास्त्री, संदीप शास्त्री, प्यारे लाल जुगरान, अभिषेक शर्मा, रवि शास्त्री, गुरु दत्त शर्मा और अन्य लोग उपस्थित थे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर