• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • उत्तराखंड सरकार की वादाखिलाफी से गुस्साए बिजलीकर्मियों ने फिर बंद किया काम, 3 दिन परेशान होगी जनता

उत्तराखंड सरकार की वादाखिलाफी से गुस्साए बिजलीकर्मियों ने फिर बंद किया काम, 3 दिन परेशान होगी जनता

उत्तराखंड स्थित ऊर्जा भवन. (File Photo)

उत्तराखंड स्थित ऊर्जा भवन. (File Photo)

Uttarakhand News: लंबे समय से अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे ऊर्जा विभाग कर्मियों ने 'टूल एंड पेन डाउन' करते हुए कामबंदी कर दी है. आज से तीन दिनों तक जनता की बिजली संबंधी शिकायतें नहीं सुनी जाएंगी.

  • Share this:

देहरादून. राज्य भर में आज मंगलवार से बिजली उपभोक्ताओं को बिजली संबंधी दिक्कतें झेलनी पड़ेंगी. गुरुवार तक राज्य भर में अगर किसी भी इलाके में कोई बिजली फॉल्ट हुआ, तो दुरुस्तीकरण का काम नहीं होगा, नये मीटर लगने का काम बंद रहेगा, बिजली बिल बनने समेत कई तरह के काम प्रभावित रहेंगे.

इसका बड़ा कारण उत्तराखंड में तीनों ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों द्वारा मंगलवार से ‘टूल और पेन डाउन’ किया जाना है. उत्तराखंड में बिजली कर्मचारी अपनी मांगें पूरी न होने के चलते 21 से 23 सितंबर तक एक तरह से काम रोककर हड़ताल करने जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें : उत्तराखंड में केजरीवाल की रैली के बाद विवाद, ‘तिरंगा यात्रा’ में ‘तिरंगे’ के अपमान के आरोप

14 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं ऊर्जाकर्मी

दरअसल ऊर्जाकर्मी लम्बे समय से अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर समय-समय पर आंदोलन करते रहे हैं. इससे पहले ये कर्मचारी 26 जुलाई को भी हड़ताल पर गये थे, लेकिन सरकार के साथ बातचीत के बाद मिले आश्वासनों के चलते कर्मचारियों ने सरकार को एक महीने का समय दिया था. महीना गुज़रने के बाद भी कर्मचारियों की मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई, तो कर्मचारियों ने एक बार फिर नाराज़गी दिखाई है. अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर एक बार फिर वे आन्दोलन कर रहे हैं.

3 दिन नहीं होगा कोई काम, अक्टूबर में हड़ताल की धमकी

इस कामबंदी के दौरान 21 से 23 तक कर्मचारी न तो दफ्तरों में पेन का प्रयोग करेंगे और न ही कोई टूल उठाएंगे. वहीं, जूनियर इंजीनियर संगठन के अध्यक्ष संदीप शर्मा का कहना है कि सरकार उनकी मांगों को जल्द न मानी, तो कर्मचारी 6 अक्टूबर से हड़ताल पर रहेंगे. साथ ही, कहना है कि वेतन विसंगति, ग्रेड पे, समान कार्य समान वेतन, प्रमोशन जैसी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर ऊर्जा कर्मचारी संगठन लम्बे समय से आंदोलन कर रहा है. लेकिन अभी शासन और सरकार से वार्ता के बाद भी मांगों पर अमल न होने से अब कर्मचारी बेहद खफा नजर आ रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज