होम /न्यूज /उत्तराखंड /उत्तराखंडियों का असली रहनुमा कौन? दिल्ली एमसीडी चुनाव में टिकट वितरण पर उत्तराखंड में सियासत

उत्तराखंडियों का असली रहनुमा कौन? दिल्ली एमसीडी चुनाव में टिकट वितरण पर उत्तराखंड में सियासत

एमसीडी चुनाव में टिकट बंटवारे पर उत्तराखंड की सियासत गर्म.

एमसीडी चुनाव में टिकट बंटवारे पर उत्तराखंड की सियासत गर्म.

Uttarakhand News: दिल्ली एमसीडी चुनाव में बीजेपी ने इस बार सबसे अधिक उत्तराखंड मूल के दस लोगों को टिकट दिया है. जबकि, आ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

दिल्ली में 1 करोड़ 47 लाख में 14 लाख वोटर उत्तराखंड के.
भाजपा ने उत्तराखंड मूल के 10 कैंडिडेट को टिकट दिया है.
बीजेपी ने अपने 48 नेताओं को दिल्ली चुनाव प्रचार में भेजा.

देहरादून. चुनाव भले ही दिल्ली में हो, लेकिन सियासी सरगर्मियां उत्तराखंड में भी हैं. इसका कारण है दिल्ली में उत्तराखंडी वोटर्स की अच्छी खासी तादाद. दिल्ली में एक करोड़ 47 लाख वोटर्स में से 12 से 14 लाख वोटर्स उत्तराखंड के हैं जो दिल्ली MCD में दूसरी बड़ी कम्युनिटी हैं. यह भी एक बड़ा कारण है कि MCD चुनाव में बीजेपी ने उत्तराखंड मूल के 10 कैंडीडेट को टिकट दिया है. उत्तराखंड बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष महेश भट्ट ने बताया कि पार्टी ने अपने 48 नेताओं को दिल्ली चुनाव प्रचार में भेजा है.

उत्तराखंड में अपनी पैठ बनाने की जुगत में लगी आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड मूल के मात्र दो कैंडीडेट को MCD चुनाव में टिकट दिया है; तो कांग्रेस यहां भी फिसड्डी साबित हुई.. कांग्रेस ने उत्तराखंड मूल के मात्र एक कैंडिडेट को चुनाव में उतारा है. उत्तराखंड से जुड़े कांग्रेस के कुछ नेता इस बात से दुःखी हैं.

कांग्रेस नेता धीरेंद्र प्रताप कहते हैं कि उनकी राय है कि जिसकी जितनी हिस्सेदारी, उतनी उसकी भागीदारी होनी चाहिए. लेकिन, उसके अनुरूप न बीजेपी, न कांग्रेस और न आप ने उत्तराखंड को प्रतिनिधित्व दिया है.

बता दें कि दिल्ली MCD चुनाव के लिए चार दिसंबर को मतदान होना है. उससे पहले बीजेपी, कांग्रेस, आप नेताओं की एक बड़ी खेप उत्तराखंड से दिल्ली पहुंची हुई है. सीएम धामी दो बार प्रचार में हिस्सा ले चुके हैं, तो बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भी दूसरी बार गुरुवार को दिल्ली जा रहे हैं.

Tags: Delhi MCD Election 2022, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें