मानसून के स्वागत की करें तैयारी, अगले दो घंटे उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली में गरजेंगे बादल
Dehradun News in Hindi

मानसून के स्वागत की करें तैयारी, अगले दो घंटे उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली में गरजेंगे बादल
सोमवार को नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर, पौड़ी और देहरादून में कहीं-कहीं भारी बारिश का अलर्ट है.

Weather Update: देहरादून समेत छह ज़िलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. सोमवार को नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर, पौड़ी में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 22, 2020, 12:53 PM IST
  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में मॉनसून 23 जून को दस्तक देगा. उमस भरे दो दिन के बाद सोमवार को देहरादून समेत छह ज़िलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के तीन घंटे के लिए जारी होने वाले पूर्वानुमान के अनुसार सोमवार सुबह 9 बजे से 12 तक तीन ज़िलों- उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली में कहीं-कहीं गर्जन वाले बादल विकसित होने की संभावना है. सोमवार को नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर, पौड़ी और देहरादून में कहीं-कहीं भारी बारिश का अलर्ट है. मौसम विभाग ने मॉनसून सीज़न के दौरान पहाड़ों में सफ़र करने के समय एहतियात बरतने की भी चेतावनी दी है.

पहले 21 का था अनुमान

बता दें कि एक हफ़्ते पहले जारी पूर्वानुमान में मौसम विभाग ने 21 से 23 के बीच मॉनसून के उत्तराखंड में प्रवेश करने की संभावना जताई थी. मौसम विभाग देहरादून के निदेशक विक्रम सिंह ने 16 जून को कहा था कि अगले 24 घंटों में मानसून उत्तर प्रदेश में दाखिल हो जाता है तो उत्तराखंड में मानसून के 21 जून को पहुंच जाने की संभावना है.



ज़ाहिर है मॉनसून की रफ़्तार धीमी पड़ी और वह अब मंगलवार, 23 जून को उत्तराखंड में प्रवेश करेगा.
कहां-कहां, कब, कितनी बारिश

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को ऊधम सिंह नगर, चंपावत और पौड़ी में भारी बारिश का अलर्ट है. इसके अलावा पिथौरागढ़, देहरादून, नैनीताल और बागेश्वर में कहीं-कहीं बारिश हो सकती है.

24 जून को पिथौरागढ़, देहरादून, नैनीताल और बागेश्वर में कहीं-कहीं बहुत भारी बारिश हो सकती है तो ऊधम सिंह नगर, चंपावत, पौड़ी के साथ टिहरी में भी भारी बारिश का अलर्ट है.

25 जून को पिथौरागढ़, चंपावत, बागेश्वर, नैनीताल पौड़ी, टिहरी देहरादून में कई स्थानों पर तेज़ बौछारों के साथ भारी बारिश का अलर्ट है.

भूस्खलन का खतरा

बारिश के साथ ही पहाड़ों में भूस्खलन का खतरा बढ़ जाता है. मौसम विभाग ने पहाड़ों में यात्रा करते समय ऐहतिहात बरतने की सलाह दी है. इससे पहले रविवार को मसूरी में गलोगी पावर हाउस के पास पहाड़ का एक बड़ा हिस्सा दरकने से मसूरी-देहरादून मार्ग बंद हो गया था.

हालांकि उत्तराखंड आपदा न्यूनीकरण एवं प्रबंधन केंद्र का कहना है कि मानसून सीज़न को देखते हुए विभाग ने पहले से सभी तैयारियां की हुई हैं. लैंडस्लाइड प्रोन एरियाज़ में जेसीबी और डोज़र मशीन रखी गई हैं ताकि अगर लैंडस्लाइड होता है तो तुरंत रास्ता खोला जाए.

यह भी देखें: 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज