प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने CM रावत से की बात, उत्तराखंड में महामारी के हालात पर हुई चर्चा

उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत से पीएम मोदी ने फोन पर कोविड को लेकर चर्चा की है. (ANI)

उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत से पीएम मोदी ने फोन पर कोविड को लेकर चर्चा की है. (ANI)

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बात कर प्रदेश में महामारी संबंधी स्थिति की जानकारी ली और राज्य को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया है.

  • Share this:

देहरादून. उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बात कर प्रदेश में महामारी संबंधी स्थिति की जानकारी ली और राज्य को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया. मुख्यमंत्री रावत ने सोशल मीडिया के जरिए बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति के बारे में जानकारी ली. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने माननीय प्रधानमंत्री को वर्तमान स्थिति से अवगत कराया।’’

CM तीरथ सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया. मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार व्यक्त किया.

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी हालात पिछले कई दिनों से गंभीर बने हुए हैं और यहां मरीजों की दैनिक संख्या लगातार 7,000 से 9,000 तक दर्ज की जा रही है. प्रदेश में शनिवार को भी 8,390 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी, जबकि 118 और लोगों की महामारी से जान चली गयी थी.

Youtube Video

DRDO हरिद्वार और हल्द्वानी में बना रहा है अस्पताल 

उत्तराखंड में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के दौर में मरीज़ों की बढ़ती संख्या के मद्देनज़र इंतज़ाम किए जाने की ठोस कवायद हो रही है. ऋषिकेश और हल्द्वानी में दो कोविड केयर अस्पताल बनाए जा रहे हैं, जिनके लिए भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन यानी DRDO ने ज़िम्मा उठाया है. असल में, यह उस प्रोजेक्ट का हिस्सा है, जिसके बारे में एक महीने पहले ही सूचना दी गई थी.

कोविड-19 से लड़ने के लिए करीब 800 बिस्तरों वाले दो अस्पताल उत्तराखंड के दो प्रमुख नगरों ऋषिकेश और हल्द्वानी में DRDO द्वारा बनाए जा रहे हैं. समाचार एजेंसी एएनआई की मानें तो डीआरडीओ के अधिकारी ने जानकारी दी है कि हल्द्वानी के अस्पताल में 375 ऑक्सीजन बेड और 125 वेंटिलेटर बेड होंगे. वहीं, ऋषिकेश के अस्पताल में 400 ऑक्सीजन बेड और 100 वेंटिलेटर बेड होंगे.



(भाषा से इनपुट के साथ)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज