VIDEO: बारिश से बदला मौसम का मिजाज, लेकिन कुछ यूं आई पहाड़ में मूसीबतें

तेज बारिश से कोसी नदी में गाद आने से अल्मोड़ा मुख्यालय के लोगो को पानी नहीं मिल पा रहा है. लगातार बारिश से अब जन जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है.

News18 Uttarakhand
Updated: April 9, 2018, 1:32 PM IST
News18 Uttarakhand
Updated: April 9, 2018, 1:32 PM IST
उत्तराखंड में दो दिन से हो रही बारिश से मौसम का मिजाज बदल गया है. मौसम विभाग ने राज्य के 7 जिलों में हल्की बारिश की संभावना जताई है, जबकि उत्तरकाशी, टिहरी और पिथौरागढ़ में तेज हवाओं के साथ बारिश और ओलावृष्टि का पूर्वानुमान जताया है. मौसम केंद्र ने देहरादून उत्तरकाशी, टिहरी, रुद्रप्रयाग, चमोली, अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ में हल्की बारिश की संभावना जताई है. बदले मौसम के मिजाज से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है.

पर्यटन व्यवसायियों के खिले चेहरे, किसान हुए मायूस

बदले मौसम के मिजाज से जहां होटल कारोबारियों के चेहरे खिलखिला उठे, तो वहीं लीची और आम के लिहाज से बदले मौसम के मिजाज को ठीक नहीं माना जा रहा है. यानी लीची और आम के लिए बदले मौसम का मिजाज नुकसानदेह साबित हो सकता है. प्रदेश में किसानों की खेतों में लहलहा रही गेंहू की फसल को बारिश से काफी नुकसान पहुंचा है.

ऑल वेदर रोड का काम हुआ प्रभावित

मौसम विभाग ने 7 से 10 अप्रैल तक अलर्ट दिया था किन्तु अकेले जनपद उत्तरकाशी में 12 तक वर्षा का दौर जारी रह सकता है. चारधाम यात्रा के लिहाज से तैयार हो रहे ऑल वेदर रोड का काम बारिश के चलते प्रभावित होगा.

बारिश ने बढ़ाई अल्मोड़ा के लोगों की परेशानी

जिले में पिछले तीन दिनों से रुक-रुक कर तेज बारिश जारी है. लगातार बारिश से गेहूं की फसल को भी भारी नुकसान हो रहा हैं. इसके साथ ही ओले गिरने से बागवानी को नुकसान तेजी हो रहा है. तेज बारिश से कोसी नदी में गाद आने से अल्मोड़ा मुख्यालय के लोगो को पानी नहीं मिल पा रहा है. लगातार बारिश से अब जन जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है.
First published: April 9, 2018, 1:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...