लाइव टीवी

पुलवामा हमले में शहीद हो गए थे मेजर विभूति, पत्नी निकिता को आया OTA से बुलावा
Dehradun News in Hindi

Bharti Saklani | News18 Uttarakhand
Updated: March 4, 2020, 6:58 PM IST
पुलवामा हमले में शहीद हो गए थे मेजर विभूति, पत्नी निकिता को आया OTA से बुलावा
पुलवामा हमले में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंडियाल के साथ उनकी पत्नी नितिका ढौंडियाल की फाइल फोटो

पुलवामा आतंकी हमले (pulwama terror attack) में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंडियाल की विधवा निकिता कौल ढौंडियाल ने अपने शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) परीक्षा और इंटरव्यू पास कर लिया है. उन्हें अब बस मेरिट लिस्ट का इंतजार जिसके बाद वह सेना (Indian Army) से जुड़ जाएंगी.

  • Share this:
देहरादून. करीब साल भर पहले अपने पति के ताबूत पर झुककर उसके कानों में 'आई लव यू' कहती निकिता को देखकर सभी की आंखें भर आई थीं. वहीं आज वह वही वर्दी पहनने के लिए तैयार है, जिसके लिए उसके पति ने अपनी जान कुर्बान कर दी थी.

पुलवामा आतंकी हमले (pulwama terror attack) में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंडियाल की विधवा निकिता कौल ढौंडियाल ने अपने शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) परीक्षा और इंटरव्यू पास कर लिया है. उन्हें चेन्नई स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी से बुलावा आ गया है. अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक OTA से निकिता को बुलावा का पत्र भेजा गया है. पति की मौत के बाद निकिता ने भारतीय सेना (Indian Army) से जुड़कर देश सेवा का सपना देखा था. अब यह सपना सच होने वाला है.

आपको बता दें कि पिछले महीने ही पुलवामा हमले में ऑपरेशन के दौरान शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल (Pulwama Martyr) की पहली बरसी मनाई गई. आतंकी हमले के बाद इस एक साल में शहीद की पत्नी नितिका की जिंदगी पूरी तरह से बदल गई. फिलहाल नोएडा में एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रही नितिका अब सेना में जाने के लिए तैयार है.



सास को पूरा श्रेय देती हैं नितिका
शहीद विभूति ढौंडियाल की पत्नी नितिका सेना में नौकरी मिलने का इंतजार कर रही थीं. नितिका सेना में जाने के निर्णय का पूरा सारा श्रेय अपनी सास सरोज ढौंडियाल को देती हैं. न्यूज 18 के साथ बातचीत में नितिका ने बताया था कि पिछले साल नवंबर 2019 में उन्होंने सेना में वुमन एंट्री स्कीम का फॉर्म भरा था. अपने हौसले और मेहनत की वजह से अब वह मेडिकल टेस्ट और इंटरव्यू भी क्लीयर कर चुकी हैं.

बहू के फैसले के साथ खड़ी हैं सास
इधर, नितिका ढौंडियाल के सेना में जाने के फैसले से उनकी सास और शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की मां सरोज ढौंडियाल भी बेहद खुश हैं. उन्होंने कहा कि वह इस फैसले में बहू के साथ खड़ी हैं. शहीद की मां ने बताया कि घर में तीन बहनों के छोटे भाई शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की शहादत पर देश गर्व करता है. अगर बहू नितिका ढौंडियाल का मेरिट में नाम आता है, तो यह और भी गर्व की बात होगी कि घर की बहू भी सेना में लेफ्टिनेट बनकर देश सेवा करती नजर आएगी.

ये भी पढ़ें -

UJVNL को ‘मेड इन इंडिया’ स्वीकार नहीं... इटली में बनी महंगी मशीन के लिए भारत की बनी खारिज

इस बार फुल प्रूफ़ होगा कुंभ का प्लान... आसमान से ज़मीन का चप्पा-चप्पा नापेगा यूसैक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 4, 2020, 5:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading