Home /News /uttarakhand /

Illegal Mining: हरक सिंह रावत ने दो ​नदियों में कबूला अवैध खनन, अब एक्शन मोड में सरकार, जानिए पूरा मामला

Illegal Mining: हरक सिंह रावत ने दो ​नदियों में कबूला अवैध खनन, अब एक्शन मोड में सरकार, जानिए पूरा मामला

उत्तराखंड सरकार ने अवैध खनन मामले में जांच के आदेश दिए.

उत्तराखंड सरकार ने अवैध खनन मामले में जांच के आदेश दिए.

एक तरफ विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Assembly Election) की सरगर्मियों के चलते उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) लगातार लुभाने वाली घोषणाएं कर रही है, तो दूसरी ओर कई आरोपों में भी घिरी हुई है. इनमें से एक बड़ा आरोप अवैध खनन का रहा है, जिसे लेकर कांग्रेस (Uttarakhand Congress) पिछले कुछ समय से काफी हमलावर दिखी है और खनन माफिया (Mining Mafia) के साथ अफसरों की मिलीभगत के आरोप लगाती रही है. अब इस मामले में बड़ा मोड़ आया है और धामी (Pushkar Singh Dhami) सरकार के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने एक अधिकारी पर एक्शन लेकर जांच के आदेश (Inquiry Order) देकर साफ कह दिया है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    देहरादून. उत्तराखंड की भाजपा सरकार लगातार अवैध खनन के आरोपों से घिरी हुई थी और अब सरकार ने दो नदियों में इन आरोपों को मान लिया है. उत्तराखंड सरकार की कैबिनेट में वन मंत्री हरक सिंह रावत ने शुक्रवार को माना कि राज्य में दो नदियों में अवैध खनन किए जाने के संबंध में पर्याप्त सबूत हैं और इन साक्ष्यों को देखने के बाद राज्य ने इस मामले में जांच के आदेश दे​ दिए. ये मामला कोटद्वार का है, जहां दो नदियों में खनन को लेकर वन विभाग के ही एक वरिष्ठ अधिकारी की मिलीभगत के आरोप भी लगे थे. अब रावत ने इस आरोपी अफसर के खिलाफ भी एक्शन लिया है.

    हरक सिंह रावत ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कोटद्वार में मलान और सुखरो नदियों में अवैध खनन के आरोपों पर सरकार के सख्त रवैया इख्तियार करने का संकेत दिया. समाचार एजेंसी पीटीआई की खबर के मुताबिक रावत ने बताया कि इस मामले में एक डीएफओ यानी डिविजनल फॉरेस्ट अफसर के खिलाफ खनन में शामिल होने के आरोप हैं इसलिए उन्हें विभाग मुख्यालय अटैच किया गया है. रावत ने माना कि मानकों के खिलाफ जाकर चैनलाइजेशन के नाम पर नदियों में अवैध ढंग से खनन किया जा रहा है.

    ये भी पढ़ें : गोदियाल ने खनन पर, कहा – ‘दूसरा मधु कोड़ा न बने’

    वन मंत्री ने कहा, बख्शा नहीं जाएगा
    इस मामले में लैंसडाउन के डीएफओ दीपक सिंह पर आरोप लगे हैं और हरक सिंह रावत ने कहा कि सिंह लगातार आरोपों से इनकार कर रहे हैं, लेकिन शुरुआती जांच में उनके खिलाफ सबूत सामने आए हैं. रावत ने खुद नदियों का जायज़ा लेकर स्थिति जानने का दावा करते हुए कहा कि सिंह को अटैच कर जांच के आदेश दिए गए हैं. उन्होंने साफ कहा कि इस मामले में किसी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.

    कांग्रेस ने ज़ोरदार ढंग से उठाया था मुद्दा
    विधानसभा चुनाव के समय में राज्य में अवैध खनन के मुद्दे को कांग्रेस ने दमदारी से उठाते हुए पिछले महीने कहा था कि जल्द ही पार्टी दस्तावेज़ों के साथ दूध का दूध पानी का पानी करेगी. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा ​था, जिस तरह से पट्टे नियमों के खिलाफ जारी किए गए और अवैध खनन जैसे हो रहा है, उससे डर है कि उत्तराखंड में कोई नया मधु कोड़ा न बन जाए. उन्होंने एक हाईपावर कमेटी बनाकर अवैध खनन के आरोपों की जांच करवाए जाने की मांग भी सरकार से की थी.

    Tags: Harak singh rawat, Illegal Mining, Uttarakhand Government

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर