होम /न्यूज /उत्तराखंड /

Raksha Bandhan : देहरादून की सुनीता ने गाय के गोबर से बनाई सुंदर राखियां, देखकर हो जाएंगे हैरान!

Raksha Bandhan : देहरादून की सुनीता ने गाय के गोबर से बनाई सुंदर राखियां, देखकर हो जाएंगे हैरान!

Raksha Bandhan Cow Dung Rakhi: देहरादून की रहने वाली सुनीता राणा गाय के गोबर से राखी बना रही हैं. उनके मुताबिक, गौमाता का गोबर पवित्र माना जाता है. गोबर का सही प्रयोग हो और चाइनीज उत्पादों से बचने के लिए उन्होंने यह पहल की है.

रिपोर्ट-हिना आज़मी

देहरादून. रक्षाबंधन के लिए राखियां बाजारों में आ गई हैं, लेकिन इसी बीच उत्तराखंड की राजधानी देहरादून की रहने वालीं सुनीता राणा गोबर से राखी बनाने का काम कर रही हैं. पूजा विहार निवासी सुनीता ने बताया कि हिंदू धर्म के अनुसार, गौमाता का गोबर पवित्र माना जाता है. गोबर का सही प्रयोग हो और चाइनीज उत्पादों से बचने के लिए उन्होंने यह पहल की है. सुनीता राणा किशोरी कृपा सेवा ट्रस्ट से जुड़ी हैं, जो निर्धन वर्ग के गोपालकों को आर्थिक मदद करता है. उनका मानना है कि गाय हमारी संस्कृति की द्योतक है और इन्हें बचाना हमारी संस्कृति को बचाने के समान है.

इसके अलावा सुनीता राणा ने घर पर ही राखी बनाने का तरीका बताया, जिससे आप खुद अपने घर पर गोबर से राखी बना सकते हैं.

गोबर से राखी बनाने की विधि
1- सबसे पहले गाय के गोबर को सुखा लीजिए.
2- सूखने के बाद इसको पीस लीजिए और इसके पाउडर को छान लीजिए.
3- अब इसे मुल्तानी मिट्टी में मिला कर गूंथ लीजिए.
4- यह मिक्सचर तैयार होने के बाद फूलों के खांचों की मदद से इसके डिजाइन बनाइए.
5-इसे धूप में सुखाकर इन्हें अपने मनचाहे रंगों से रंग लीजिए.
6- डेकोरेशन के लिए आप स्टोन, सुनहरी डोरियों का प्रयोग कर सकते हैं.
7- इस तैयार राखी को रक्षाबंधन पर भाई की कलाई पर बांधिए.

गोबर के हैं कई फायदे
सुनीता राणा ने बताया कि गाय के गोबर के कई फायदे हैं. उन्होंने बताया कि गाय के गोबर में विटामिन बी-12 पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है. गाय का गोबर रेडियोधर्मिता को सोखता है. उन्होंने कहा कि यह राखियां प्लास्टिक फ्री और केमिकल फ्री हैं, जो पर्यावरण के भी अनुकूल है.

Tags: Dehradun news, Raksha bandhan

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर