राम मंदिर भूमि पूजन: हाई अलर्ट पर उत्तराखंड पुलिस, बॉर्डर पर बढ़ाई गई चौकसी
Dehradun News in Hindi

राम मंदिर भूमि पूजन: हाई अलर्ट पर उत्तराखंड पुलिस, बॉर्डर पर बढ़ाई गई चौकसी
पुलिस ने बॉर्डर इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी है.

Ram Mandir Bhumi Pujan Live Update: डीजी अशोक कुमार का कहना है कि 5 अगस्त को लेकर पुलिस द्वारा पूरी सुरक्षा व्यवस्था (Security) की गई है. साथ ही पुलिस बल को भी ऐसे स्थानों पर लगाया गया है जहां पर ज्यादा जरूरत है.

  • Share this:
देहरादून: अयोध्या (Ayodhya) में श्री राम जन्मभूमि के भूमि पूजन (Ram Mandir Bhumi Pujan) की तैयारी जोरों पर है. भूमि पूजन को लेकर देशभर में पुलिस ने भी हाई अलर्ट जारी किया गया है. वहीं उत्तराखंड में भी पुलिस (Uttarakhand Police) द्वारा पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की गई है. डीजी अशोक कुमार का कहना है कि 5 अगस्त को लेकर पुलिस द्वारा पूरी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. साथ ही पुलिस बल को भी ऐसे स्थानों पर लगाया गया है जहां पर ज्यादा जरूरत है. संवेदनशील इलाकों में पुलिस को मुस्तैदी से नजर बनाने के लिए भी सभी एसपी और एसएसपी को निर्देशित किया गया है. राज्य की सीमाओं पर भी सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतेज़ाम किए गए हैं. वहीं कोविड-19 को देखते हुए पहले से ही प्रदेश में पुलिस बल पूरी तरह से सतर्क है.

पुलिस मुख्यालय से निर्देश मिलते ही देहरादून जिले को चार जोनों में बांटा गया है जिसमें 11 सेक्टर और 33 सब सेक्टर शामिल हैं. बताया जा रहा है कि अयोध्या में भूमि पूजन के दृष्टिगत देहरादून जिले में भी राजनीतिक दलों और धार्मिक संगठनों द्वारा कई कार्यक्रमों का आयोजन होना है. इस वजह से शांति और कानून व्यवस्था बने रहे इसके लिए पुलिस ने तैयारी पूर्ण रूप से कर दी है.


ये भी पढ़ें: भील समुदाय को आगे बढ़ाने गहलोत सरकार का खास प्लान, छात्रों को मिलेगी ऐसी सहुलियत



लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने की अपील

मंगलवार को देहरादून जिले के अलग-अलग थानों में फ्लैग मार्च पुलिस टीम द्वारा किया गया है और सभी लोगों से शांति व्यवस्था बनाने की अपील पुलिस द्वारा की गई. साथ ही पांच अगस्त को किसी भी प्रकार की लॉ एंड ऑर्डर ना बिगड़े इसके लिए डीआईजी अरुण मोहन जोशी द्वारा सभी थाना चौकी प्रभारियों को सख्त निर्देशित किया गया है. किसी भी प्रकार की अराजकता फैलाने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने और शांति व्यवस्था बनाए रखने की हिदायत मिली है. वही शांति व्यवस्था बनाने के लिए पीएससी की भी मदद पुलिस लेगी और अलग-अलग थानों में इनका उपयोग किया जाएगा. संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों में अधिक पुलिस बल लगाने के भी डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने आदेश दिए हैं. वहीं बॉडर इलाकों में भी पुलिस बल बढ़ाया गया है जिससे किसी प्रकार की कोई दिक्कते न बढ़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज