राम मंदिर भूमि पूजन: कलश में गंगा-यमुना का जल लेकर अयोध्या पहुंचे मंत्री सतपाल महाराज, कही ये बात
Dehradun News in Hindi

राम मंदिर भूमि पूजन: कलश में गंगा-यमुना का जल लेकर अयोध्या पहुंचे मंत्री सतपाल महाराज, कही ये बात
उत्तराखंड की तरफ से त्रिवेंद्र सरकार के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज भी अयोध्या पहुंच चुके हैं.

Ram Mandir Bhumi Pujan Live Update: सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) ने बताया कि उत्तराखंड की जनता और पर्यटन विभाग की ओर से गंगा और यमुना (Ganga and Yamuna) जल से भरे कलश अयोध्या पहुंचा दिए गए हैं ताकि इस पवित्र जल से भगवान श्री राम का अभिषेक हो सके.

  • Share this:
देहरादून. अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhumi Pujan) की तैयारियों जोरों पर है. 5 अगस्त को पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की मौजूदगी में राम मंदिर का शिलान्यास (Ram Mandir Nirmaan) होना है. उत्तराखंड की तरफ से त्रिवेंद्र सरकार के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज भी अयोध्या पहुंच चुके हैं. अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन समारोह में देश के प्रमुख संत-महात्मा सहित 5 अगस्त को उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) के धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज भी शामिल होंगे. सतपाल महाराज ने बताया कि उत्तराखंड की जनता और पर्यटन विभाग की ओर से गंगा और यमुना जल से भरे कलश अयोध्या पहुंचा दिए गए हैं ताकि इस पवित्र जल से भगवान श्री राम का अभिषेक हो सके. उन्होंने प्रार्थना करते हुए कहा है कि भगवान राम हमारे सैनिकों और कोरोना वॉरियर्स को सशक्त बनाएं ताकि वे देश की रक्षा कर सकें.

मुहूर्त को लेकर कही ये बात

श्री राम मंदिर निर्माण भूमि पूजन समारोह मुहूर्त की चर्चा को लेकर सतपाल महाराज ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सारे अमंगलों को दूर करने वाले प्रभु श्रीराम हैं. अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि में मंदिर निर्माण के लिए जिस मुहूर्त में भूमि पूजन के समय का निर्धारण किया गया है वह अभिजीत मुहूर्त है. भगवान श्रीराम का जन्म भी अभिजीत मुहूर्त में हुआ था, इसलिए यह समय शुभ फलदायक "सर्वार्थ सिद्धि योग" का समय है. उन्होंने कहा कि मान्यता है कि इस मुहूर्त में किए जाने वाले सभी शुभ कार्य सफल होते हैं. इसीलिए श्री राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन का समय अभिजीत मुहूर्त में निर्धारित किया गया है. सतपाल महाराज ने कहा कि वह प्रार्थना करते हैं कि हमारा देश विश्व गुरु बने और अनंतकाल के लिए हमारे देश की गौरव गाथा गाई जाती रहे.



ये भी पढ़ें: PPP कार्ड से लिंक होंगी हरियाणा सरकार की ये योजनाएं, एक क्लिक में मिलेगा फायदा
सीएम योगी ने लिया तैयारियों का जायजा

उधर, मुख्य कार्यक्रम से दो दिन पहले सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भूमि पूजन की तैयारियों का जायजा लेने अयोध्या पहुंचे. इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों संग बैठक की. ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय से मुलाक़ात भी की. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चार और पांच अगस्त को हम लोग दीये जलाएं, मंदिरों को सजाएं, दीपोत्सव मनाएं और रामायण का पाठ करते हुए उन लोगों को याद करें जिन्होंने मंदिर के लिए अपने प्राणों की आहुति दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज