Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    COVID-19 : सतपाल महाराज और उनकी पत्नी ने कोरोना को किया पराजित, एम्स से मिली छुट्टी

    सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को आज एम्स से छुट्टी मिली. (फाइल फोटो)
    सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को आज एम्स से छुट्टी मिली. (फाइल फोटो)

    31 मई को पता चला कि उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. इसी दिन उन्हें एम्स ऋषिकेश में भर्ती कर लिया गया. ठीक इसके पहले उनकी पत्नी अमृता रावत की कोरोना सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी.

    • News18Hindi
    • Last Updated: June 16, 2020, 10:45 PM IST
    • Share this:
    देहरादून. उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) और उनकी पत्नी अमृता रावत ने कोरोना (Coronavirus) को पराजित कर दिया. एम्स ऋषिकेश (AIIMS Rishikesh) ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया है और उन्हें होम क्वारंटाइन (Quarantine) में रहने का निर्देश दिया है. आपको बताते चलें, 31 मई को पता चला कि उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. इसी दिन उन्हें एम्स ऋषिकेश में भर्ती कर लिया गया. ठीक इसके पहले उनकी पत्नी अमृता रावत की कोरोना सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसी के बाद सतपाल महाराज के सैंपल लिए गए थे. अमृता राव को भी एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था. आज शाम तकरीबन 5 बजे सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को एम्स ऋषिकेश से छुट्टी मिली है.

    सतपाल महाराज के माली की मौत

    खबरों के मुताबिक, उत्तराखंड के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज की पत्नी, उनके दो बेटे, पुत्रवधुएं, पोता और उनके कर्मचारी समेत 22 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इनका इलाज भी एम्स ऋषिकेश में हुआ था. इस बीच खबर है कि कोरोना संक्रमण से बचकर निकले सतपाल महाराज की नर्सरी में काम करने वाले बुजुर्ग माली की मौत हो गई है. वह सुबह नर्सरी में ही अपने बिस्तर पर मृत मिला. कुछ दिन पहले वह कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए थे. छह दिन पहले ठीक होने के बाद वापस नर्सरी लौटे थे. 31 मई को दून अस्पताल में माली को भर्ती कराया गया था. स्वास्थ होने के बाद उन्हें 10 जून को डिस्चार्ज कर दिया गया था.



    उत्तराखंड में संक्रमण के 97 नए मामले आए
    उत्‍तराखंड में मंगलवार को कोरोना के 97 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें टिहरी 14, देहरादून 18, अल्मोड़ा 10, हरिद्वार 27, नैनीताल 2, पौड़ी 4, पिथौरागढ़ 7, ऊधमसिंहनगर 8 और उत्तरकाशी के 5 मामले शामिल हैं. इसके साथ ही 27 लोग स्वस्थ होकर घर भेजे जा चुके हैं. फिलहाल, प्रदेश में 710 मामले एक्टिव हैं, जबकि 25 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, 13 संक्रमित मरीज राज्य से बाहर चले गए हैं. प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्‍या 1942 पहुंच गई है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज