बेटा,बहु और पोते को अस्पताल से मिली छुट्टी, सतपाल महाराज को होम क्वारेंटिन के लिए अभी करना होगा इंतजार

सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को आज एम्स से छुट्टी मिली. (फाइल फोटो)
सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को आज एम्स से छुट्टी मिली. (फाइल फोटो)

एम्स प्रशासन का कहना है कि पर्यटन मंत्री के स्वजनों को एम्स में दस दिन से ज्यादा का समय हो गया था. सभी लोग शुरू से एसिम्टोमेटिक (Asymptomatic) थे.

  • Share this:
देहरादून. पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) की पत्नी व पूर्व विधायक अमृता रावत 28 मई को कोरोना पॉजिटिव आई थी. इसके अगले ही दिन 29 मई को सतपाल महाराज, उनके पुत्र और पुत्रबधु समेत 22 अन्य लोग भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे. इनमें से सतपाल महाराज समेत उनके परिवार के छह लोगों को 30 मई को एम्स में भर्ती किया गया था. वहीं, अमृता राव 29 मई को ऋषिकेश एम्स में भर्ती हुई थीं.

बुधवार देर शाम पर्यटन मंत्री के पांच स्वजनों को एम्स से डिस्चार्ज करते हुए होम क्वारेंटिन में भेज दिया गया  है. एम्स प्रशासन का कहना है कि पर्यटन मंत्री के स्वजनों को एम्स में दस दिन से ज्यादा का समय हो गया था. सभी लोग शुरू से एसिम्टोमेटिक थे. इसके चलते शासन की नई गाइडलाइन के मुताबिक उनको रिलीव कर दिया गया. जबकि पर्यटन मंत्री और उनकी पत्नी रिपोर्ट नेगेटिव आने तक अभी एम्स में ही भर्ती रहेंगे.

इससे पहले भी डिस्चार्ज किए गए थे पर्यटन मंत्री के पांचों स्वजन
इससे पहले भी एक जून को पर्यटन मंत्री और उनकी पत्नी को छोड़कर बेटों, पुत्रबधु और पोते को एम्स प्रशासन ने रिलीव कर होम क्वारेंटिन में भेज दिया था. लेकिन, नियमों की अनदेखी पर जब मामले ने तूल पकड़ा तो एम्स प्रशासन ने कुछ ही घंटों के भीतर सभी को वापस बुलाकर दोबारा एम्स में भर्ती करा दिया था.
खुद मुख्यमंत्री ने भी अपना कोरोना टेस्ट कराया था


29 मई को सतपाल महाराज के कोरोना पॉजीटिव आने के बाद राज्य में काफी उथल पुथल रही. स्वयं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत उनके तीन अन्य कैबिनेट सहयोगी मंत्री हरक सिंह रावत, सुबोध उनियाल और मदन कौशिक को तीन दिन होम क्वारेंटिन में रहना पड़ा था. इधर सचिवालय कर्मियों ने भी कोरोना संक्रमण का खतरा बताते हुए तीन दिन खुद को होम क्वारेंटिन किया था. इस दौरान खुद मुख्यमंत्री ने भी अपना कोरोना टेस्ट कराया था.उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी.

ये भी पढ़ें- 

मास्क ऐसा कि पहनने पर भी पहचान बनी रहे, कारोबारी ने धंधा चलाने को किया खास काम

लालू के जन्मदिन पर नहीं कटेगा केक, 72 हजार गरीबों को खाना खिलाएगा रा

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज