सुशांत सिंह राजपूतः केदारनाथ के हेलीपैड पर हेलिकॉप्टर शॉट लगाने वाला एक्टर

केदारनाथ फ़िल्म की शूटिंग के दौरान सुशांत
केदारनाथ फ़िल्म की शूटिंग के दौरान सुशांत

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) और सारा अली खान (Sara Ali Khan) ने केदारनाथ में साल 2013 में आई आपदा की पृष्ठभूमि पर बनी बॉलीवुड फिल्म की शूटिंग के दौरान यहां लंबा समय बिताया था.

  • Share this:
देहरादून. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के उभरते सितारे सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या की खबर से उत्तराखंड में लोग हैरान हैं. उन्हें यकीन ही नहीं हो रहा कि फिल्म 'केदारनाथ' (Kedarnath Movie) में दिखने वाला यह नौजवान अभिनेता इतनी जल्दी दुनिया छोड़ देगा. फिल्म की शूटिंग के दौरान सुशांत सिंह से जिन पुलिसकर्मियों की जान-पहचान हो गई थी, उन्हें तो पहले इस खबर पर यकीन नहीं हुआ कि जीवन से भरपूर वह युवा इतना निराश कैसे हो सकता है. 'केदारनाथ' की शूटिंग के दौरान केदारनाथ में पुलिस चौकी के इंचार्ज रहे बिपिन चंद्र पाठक कहते हैं कि सुशांत सिंह राजपूत ने कभी महसूस ही नहीं होने दिया कि वह एक स्टार हैं. वह सुशांत सिंह को बेहद सहज, ज़मीन से जुड़े व्यक्ति और क्रिकेट प्रेमी के रूप में याद करते हैं. यहां के पुलिसवालों को सुशांत का हेलीपैड पर क्रिकेट खेलने वाला दृश्य आज भी याद है.

शूटिंग तो हुई, रिलीज नहीं हुई फ़िल्म

बता दें कि केदारनाथ में आई 2013 की आपदा की पृष्ठभूमि पर बनी बॉलीवुड फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान मुख्य भूमिका में थे. इस फ़िल्म की सारी शूटिंग उत्तराखंड में ही हुई थी. हालांकि फ़िल्म उत्तराखंड में रिलीज़ नहीं हो पाई थी. इसकी कहानी सत्यता से परे ही नहीं स्थानीय भावनाओं को आहत करने वाली भी मानी गई थी.



इसका टीज़र रिलीज़ होते ही विरोध शुरt हो गया था और अंततः राज्य सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया था. यही नहीं सरकार ने यह भी कहा था कि आगे से किसी भी फ़िल्म की शूटिंग से पहले उसकी कहानी और ट्रीटमेंट के बारे में पूछा जाएगा, तभी शूटिंग की अनुमति दी जाएगी.
sushant rajput kedarnath, केदारनाथ में आई 2013 की आपदा की पृष्ठभूमि पर बनी बॉलीवुड फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान मुख्य भूमिका में थे.
केदारनाथ में आई 2013 की आपदा की पृष्ठभूमि पर बनी बॉलीवुड फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान मुख्य भूमिका में थे.


हेलीपैड बना क्रिकेट का मैदान

लेकिन इस विवाद से परे सुशांत सिंह राजपूत को तत्कालीन चौकी इंचार्ज बिपिन चंद्र पाठक एक ज़मीन से जुड़े युवा और क्रिकेट प्रेमी के रूप में याद करते हैं. पाठक के अनुसार एक दिन सुशांत ने उनसे पूछा कि क्या यहां क्रिकेट खेला जा सकता है और क्या उनके पास बैट-बॉल मिल सकता है. पाठक ने चौकी में रखा बैट और बॉल उन्हें दे दिया और सुशांत ने उनसे बैट को कुछ दिन रखने की इजाज़त भी मांगी, जो ख़ुशी से मिल गई.

इसके बाद केदारनाथ में बने हेलीपैड में क्रिकेट खेलने की जगह तलाश कर ली गई. यहां यात्रियों के लिए बने केदारनाथ डोम्स के बीच में उन्हें ऐसी जगह मिल गई जहां क्रिकेट खेला जा सकता था और फिर तो शूटिंग खत्म होने के बाद सुबह, शाम, रात जब समय मिले सुशांत उस हैलीपैड में धोनी वाला हैलिकॉप्टर शॉट लगाने लगे.

sushant rajput in kedarnath 2, केदारनाथ में पुलिसकर्मियों के साथ सुशांतसिंह राजपूत.
केदारनाथ में पुलिसकर्मियों के साथ सुशांतसिंह राजपूत.


फ़िटनेस की  तारीफ

पाठक याद करते हैं कि एक दिन शूटिंग क्रू, हेलीपैड के कर्मचारियों के साथ क्रिकेट खेल रहे सुशांत बाहर बैठे थे, शायद वह आउट हो गए थे. वहां से गुज़र रहे पाठक ने देखा कि वह दरवाज़े के बाहर सीढ़ीनुमा संरचना में नीचे बैठे हुए थे. उन्होंने पुलिसकर्मियों से सुशांत को कुर्सी देने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने मुस्कुराकर कहा कि ऐसे ही अच्छा लग रहा है.

पाठक बताते हैं कि उन्होंने सुशांत से यह भी पूछा था कि वह फ़िटनेस के लिए योग करते हैं क्या? इस पर सुशांत ने जवाब दिया था कि उनकी दिनचर्या ऐसी है कि इसके लिए समय ही नहीं मिल पाता. कभी दिन में शूटिंग होती है तो कभी रात में इसलिए नियमित रूप से कुछ नहीं हो पाता लेकिन जब भी समय मिलता है तो वह योग और एक्सरसाइज़ करते हैं.

यह भी देखें:
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज