अपना शहर चुनें

States

थराली उपचुनाव पर हो सकता है कर्नाटक के सियासी ड्रामे का ये असर

सांकेतिक तस्वीर.
सांकेतिक तस्वीर.

11 के आंकड़े पर सिमटी कांग्रेस के लिए अपनी संख्या को विधानसभा में बढाने का मौका है. ऐसे में भाजपा को लंबे अर्से बाद पटखनी देने की सफलता को वो थराली उपचुनाव में भी भुनाना चाहेगी.

  • Share this:
कर्नाटक का सियासी नाटक थम गया है. अब कांग्रेस और जेडीएस सरकार बनाएंगे, लेकिन इस पूरे सियासी ड्रामे का असर उत्तराखण्ड में होने वाले थराली विधानसभा के उपचुनाव पर पड़ता दिखाई दे रहा है. 28 मई को थराली विधानसभा में उपचुनाव होना है. जिसके लिए दोनों पार्टियों ने एडी चोटी का जोर लगाया हुआ है. दोनों ही जीत के दावे कर रहे हैं, लेकिन प्रदेश में 11 के आंकड़े पर सिमटी कांग्रेस के लिए अपनी संख्या को विधानसभा में बढाने का मौका है. ऐसे में भाजपा को लंबे अर्से बाद पटखनी देने की सफलता को वो थराली उपचुनाव में भी भुनाना चाहेगी.

कांग्रेस भी कर्नाटक के पूरे घटनाक्रम को वो अपनी जीत बताएगी जिससे उसका कार्यकर्ता तो रिचार्ज होगा ही साथ ही कर्नाटक का इस्तमाल वो चुनावी मुद्दे के रूप में भी करेगी. प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि ने उपचुनाव में कांग्रेस की जीत का दावा करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य सरकार के जनविरोधी कार्यों पर थराली के लोगों की नजर है. उन्होंने कहा कि थराली से हमारे प्रत्याशी की लोगों में अच्छी छवि है. कॉंग्रेस नेता ने कहा कि कर्नाटक की जीत ने कांग्रेस की थराली में जीत को सुनिश्चित कर दिया है.

थराली विधानसभा सीट पर भाजपा का कब्जा था, लेकिन मगन लाल शाह की मृत्यु के बाद अब ये सीट खाली है. भाजपा ने इस सीट से दिवंगत विधायक की धर्मपत्नी को टिकट दिया है. वहीं कांग्रेस ने प्रोफेसर जीत राम आर्य को अपना प्रत्याक्षी बनाया है.



हालांकि कर्नाटक में भाजपा ने अपने पिछले विधानसभा चुनावों से अच्छी परफोरमेंस दी है, मगर वो सरकार बनाने में वो विफल रही है. नतीजों ने भाजपा को उत्साहित किया, लेकिन चार दिन चले सियासी ड्रामा ने उसे बैकफुट पर ला दिया है. नतीजे वाले दिन भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष उत्साहित दिख रहे थे और वो मान रहे थे कि ये नतीजे थराली के उपचुनाव पर जरूर असर डालेंगे.
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने थराली उपचुनाव में भाजपा की जीत के दावे करते हुए कहा कि थराली के लोग जानते हैं कि वे भाजपा के नेतृत्व में सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है, सीमाएं सुरक्षित हैं. मोदी सरकार हर क्षेत्र जैसे खाद्यान्न, विदेश नीति, रोजगार, महिला सुरक्षा और सीनियर सिटीजन की सुरक्षा सभी में अच्छा काम कर रही है. थराली की जनता भाजपा की जीत के लिए उत्साहित है.

ऐसा बहुत कम हुआ है कि सत्तासीन दल उपचुनाव हार जाए, लेकिन इस बार उपचुनाव के नतीजे दूर तक असर दिखाएंगे. ठीक वैसे ही जैसे कर्नाटक के सियासी हालातों का असर थराली के उपचुनाव पर पड़ेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज