लाइव टीवी

कई नाम उछले थे बीजेपी अध्यक्ष पद के लिए... आखिर ऐसे हुई भगत के नाम की घोषणा

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: January 16, 2020, 5:43 PM IST
कई नाम उछले थे बीजेपी अध्यक्ष पद के लिए... आखिर ऐसे हुई भगत के नाम की घोषणा
निर्विरोध या सर्वसम्मति से चुने गए बंशीधर भगत का कार्यकाल 2023 तक होगा.

खुलकर दावेदारी की पिथौरागढ़ से कैलाश पंत और अल्मोडा़ से कैलाश शर्मा ने लेकिन इन्हें भी आखिरी समय में मना लिया गया.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड भाजपा अध्यक्ष (Uttarakhand BJP President) पद को लेकर लंबे समय से चली आ रही गहमागहमी पर आखिरकार आज नए अध्यक्ष के नाम की घोषणा होते ही विराम लग गया. पार्टी के सीनियर लीडर 68-साल के बंशीधर भगत (Banshidhar Bhagat) को प्रदेश भाजपा की कमान सौंप दी गई है. निर्विरोध या सर्वसम्मति से चुने गए बंशीधर भगत का कार्यकाल 2023 तक होगा. हालांकि सर्वसम्मति बनाने के लिए पार्टी नेताओं को बंद कमरे के अंदर थोड़ी कशमकश करनी पड़ी.

मुख्यमंत्री, सांसद भी रहे मौजूद

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पद के लिए पिछले कई दिनों से पार्टी की अंदरूनी सियासत गर्म थी. कभी कुमांऊ सांसद अजय टम्टा का नाम उछला, तो कभी नवीन दुम्का. गढ़वाल से सरकार में राज्य मंत्री धन सिंह रावत का नाम भी अध्यक्ष पद के दावेदारों में आया.

हालांकि खुलकर दावेदारी की पिथौरागढ़ से कैलाश पंत और अल्मोडा़ से कैलाश शर्मा ने लेकिन इन्हें भी आखिरी समय में मना लिया गया. अंतत: पहले से तय माने जा रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री और विधायक बंशीधर भगत के नाम का ऐलान किया गया. इस मौके पर सीएम त्रिवेंद्र रावत, निवर्तमान अध्यक्ष अजय भट्ट, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह भी मौजूद रहीं.

2022 की चुनौती

नवनिर्वाचित अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि यह उनके जीवन का अभूतपूर्व क्षण है. भगत ने कहा कि 2022 में पार्टी को बंपर जीत दिलाना ही उनका पहला लक्ष्य होगा.

अपने बेबाक बयानों के लिए पहचाने जाने वाले बंशीधर भगत को सबसे पहले पार्टी के अंदर खुद का तालमेल बैठाने को मशक्कत करनी होगी तो महज दो साल की दूरी पर खड़े 2022 की चुनौती से निपटना, उनके तीन साल के कार्यकाल में सबसे बड़ी परीक्षा होगी.ये भी देखें: 

बंशीधर भगत बने उत्तराखंड भाजपा के नए अध्यक्ष, देखिए 6 बार के MLA का राजनीतिक सफ़र

उत्तराखंड को दी गईं चैंपियन की गालियां भूल गई बीजेपी? घर वापसी पर हां नहीं, तो न भी नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 5:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर