लाइव टीवी

यह है असली रिकॉर्ड... सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ मानव श्रृंखला में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का इस्तेमाल

Rajesh Dobriyal | News18 Uttarakhand
Updated: November 5, 2019, 6:40 PM IST
यह है असली रिकॉर्ड... सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ मानव श्रृंखला में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का इस्तेमाल
देहरादून में सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ बनाई गई मानव श्रृंखला में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का ही इस्तेमाल दिखा.

कांग्रेस (Congress) पूछ रही है कि केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकारें (BJP Governments) उन फ़ैक्ट्रियों पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगवा देतीं जहां ये सिंगल यूज़ प्लास्टिक की थैलियां (Single Use Plastic bags) बनती हैं?

  • Share this:
देहरादून. दून नगर-निगम (Dehradun Municipal Corporation) ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक (single use plastic) के ख़िलाफ़ मानव श्रृंखला (Human Chain) का रिकॉर्ड बनाने का दावा किया है. मुख्यमंत्री कार्यालय (CM Office) की ओर से जारी प्रेस रिलीज़ के अनुसार 50 किलोमीटर से लंबी मानव श्रृंखला में एक लाख से ज़्यादा लोगों की भागीदारी रही. लेकिन चिंताजनक बात यह रही कि इस मानव श्रृंखला के लिए लाइन खींचने के लिए सिंगल यूज़ प्लास्टिक का ही इस्तेमाल किया गया और किसी लापरवाह पिकनिक मनाने वाले की तरह कई जगह उसे वहीं छोड़ दिया गया. कांग्रेस ने इसे शोशेबाज़ी करार दिया है.

प्रधानमंत्री मोदी का संदेश नहीं पहुंचा देहरादून! 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ अभियान चला रहे हैं. इसी साल संयुक्त राष्ट्र महासभा में भी उन्होंने ऐलान किया था कि भारत में सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ बड़ा अभियान चलाया जा रहा है. हाल ही में समुद्र तट पर कचरा उठाकर भी प्रधानमंत्री ने कूड़े और सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ अभियान चलाने का संदेश दिया.

plastic used in human chain, Trivendra rawat, gama, सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ मानव श्रृंखला में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह गामा के साथ खड़े देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा.
सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़िलाफ़ मानव श्रृंखला में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह गामा के साथ खड़े देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा.


ऐसा नहीं कि प्रधानमंत्री मोदी के इन बयानों को, इन कोशिशों को मीडिया में जगह न मिली हो लेकिन शायद देहरादून नगर निगम को यह पर्याप्त नहीं लगा. देहरादून नगर निगम के मेयर सुनील उनियाल गामा और नगरायुक्त विनय शंकर पांडे ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक के ख़तरों के बारे में लोगों को जागरुक करने का फ़ैसला किया.

जनवरी 2017 से है प्रतिबंध... इन्हें पता नहीं 

संभवतः मेयर और नगरायुक्त को पता नहीं होगा कि उत्तराखंड में सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर 2017 की शुरुआत से ही प्रतिबंध है. तत्कालीन कांग्रेस सरकार ही सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा चुकी थी.
Loading...

plastic used in human chain, kau and naresh rawat, मानव श्रृंखला में शामिल रायपुर के बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ और वार्ड 65 के निर्दलीय विधायक नरेश रावत.
मानव श्रृंखला में शामिल रायपुर के बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ और वार्ड 65 के निर्दलीय विधायक नरेश रावत.


देहरादून के मेयर और नगरायुक्त को शायद यह भी पता नहीं होगा कि पिछले साल मई में हरिद्वार के तत्कालीन ज़िलाधिकारी दीपक रावत एक राहगीर पर पॉलिथीन में सब्ज़ी ले जाने पर 4400 रुपये जुर्माना लगाने की वजह से सुर्खियों में रहे हैं.

फ़ैक्ट्रियां बंद क्यों नहीं करवातीं ये सरकारें 

कांग्रेस नेता संजय भट्ट इसे नौटंकी बताते हैं. वह कहते हैं कि जागरुकता अभियान अच्छी बात है लेकिन जब केंद्र और राज्य दोनों जगह इनकी सरकारें हैं तो ये उन फ़ैक्ट्रियों पर प्रतिबंध क्यों नहीं करवा देते जहां ये सिंगल यूज़ प्लास्टिक की थैलियां बनती हैं. प्लास्टिक की थैलियां बनाने का लाइसेंस कैंसिल करके इन फ़ैक्ट्रियों को कपड़े की थैलियां बनाने का ऑर्डर दे दें दोनों सरकारें.

plastic used in human chain, कांग्रेस प्रवक्ता संजय भट्ट ने मानव श्रृंखला कार्यक्रम को बीजेपी सरकार की नौटंकी करार दिया और पूछा कि ये सरकारें ये प्लास्टिक उत्पाद बनाने वाली फ़ैक्ट्रियों पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगातीं?
कांग्रेस नेता संजय भट्ट ने मानव श्रृंखला कार्यक्रम को बीजेपी सरकार की नौटंकी करार दिया और पूछा कि ये सरकारें ये प्लास्टिक उत्पाद बनाने वाली फ़ैक्ट्रियों पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगातीं?


भट्ट कहते हैं कि आप प्लास्टिक की थैलियों के लिए सब्ज़ीवालों का तो आप 500, 5000 रुपये के चालान काट देते हैं लेकिन सिंगल यूज़ प्लास्टिक बेचने वाले बड़े कारोबारियों के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं करते. इन लोगों के गोदामों में छापे इसलिए नहीं मारे जाते क्योंकि बीजेपी इनसे करोड़ों रुपये का चंदा इकट्ठा करके केंद्र में भेजती है.

नौटंकी 

कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी का काम नौटंकी करना और लोगों को धोखा देना है इसीलिए  प्लास्टिक के विरोध के अभियान में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का कचरा फैला देते हो. भट्ट ने कहा कि आज के इवेंट ने बता दिया कि हाथी के दांत खाने के और हैं दिखाने के और. यह इवेंट बताती है कि देहरादून नगर निगम और बीजेपी सिंगल यूज़ प्लास्टिक का कचरा हटाने के प्रति कितने गंभीर हैं.

ये भी देखें: 

और भी तरीके हैं प्लास्टिक बैन के प्रति जागरुकता के, बच्चों को लाइन में लगाने से बाल आयोग नाराज़ 

पॉलीथीन इस्तेमाल की इतनी बड़ी सज़ा! सारे पैसे जुर्माने में वसूल लिए हरिद्वार डीएम ने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 6:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...