लाइव टीवी

इस बार बर्फ़बारी ने तोड़े कई रिकॉर्ड... पिछले साल के मुकाबले कम ऊंचाई पर भी पड़ी बर्फ़
Dehradun News in Hindi

Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: January 17, 2020, 6:52 PM IST
इस बार बर्फ़बारी ने तोड़े कई रिकॉर्ड... पिछले साल के मुकाबले कम ऊंचाई पर भी पड़ी बर्फ़
प्रदेश में इस बार हुई रिकॉर्ड बर्फ़बारी से एक ओर जहां काश्तकारों, पर्यटन कारोबारियों के चेहरे खिले हुए हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में इस बार जमकर बर्फ़बारी हो रही है. अब तक की बर्फ़बारी ने कई रिकॉर्ड तोड़े हैं. मौसम विभाग की मानें तो पिछले सालों की तुलना में इस साल ज्यादा बर्फ़बारी देखने को मिली है.  खास तौर पर कुछ कम ऊंचाई वाले स्थानों में पिछले सालों के मुकाबले अच्छी खासी बर्फ़बारी हुई है. वैज्ञानिक जलवायु परिवर्तन को भी इसके पीछे एक कारण बता रहे हैं.

पानी की कमी नहीं होगी 

प्रदेश में इस बार हुई रिकॉर्ड बर्फ़बारी से एक ओर जहां काश्तकारों, पर्यटन कारोबारियों के चेहरे खिले हुए हैं, वहीं वैज्ञानिक इसे एक अच्छा संकेत मान रहे हैं.  दरअसल लम्बे समय से इस तरह की बर्फ़बारी नहीं  हुई थी और खासकर 15 सौ मीटर ऊंचाई तक के क्षेत्रों में.

मौजूदा बर्फ़बारी से गलेशियरों की सेहत सुधर गई है तो पानी के कई स्रोत रिचार्ज भी हुए हैं. आपदा न्यूनीकरण और प्रबंधन केंद्र के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर पीयूष रौतेला मानते हैं कि यह अच्छा संकेत है. रौतेला के अनुसार नवंबर, दिसंबर में पड़ी बर्फ लम्बे समय तक रहेगी, जिससे पानी की कमी नहीं होगी.

उत्तराखंड के कुमाऊं से लेकर गढ़वाल तक के ऊंचे इलाकों में बर्फ की मोटी चादर तो बिछी ही हुई है, इस बार निचले इलाकों में भी बर्फ़बारी हुई है. बर्फ़बारी ने पिछले कई साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इस तरह का हिमपात बहुत लंबे समय बाद हुआ है.

जनजीवन अस्त-व्यस्त

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह कहते हैं कि इस बार बर्फ़बारी पड़ने की ऊंचाई काफी नीचे आई है. विक्रम सिंह यह भी कहते हैं कि पिछले साल के मुकाबले इस बार अभी तक बहुत अच्छी बारिश और बर्फ़बारी हुई है.बहरहाल यह ज़रुर है कि लगातार हो रही बर्फ़बारी से आम जनजीवन अस्तव्यस्त हुआ है और आम लोगों को कुछ परेशानी ज़रूर हो रही है लेकिन मौजूदा बर्फ़बारी ने आने वाले समय के फिलहाल भरपूर पानी के स्रोतों को रिचार्ज करके भविष्य सुरक्षित कर दिया है.

ये भी देखें: 

इस क्रिसमस पर खूब बनाएं स्नोमैन... उत्तराखंड में अच्छी बर्फ़बारी का पूर्वानुमान

बदरी तीर्थों में प्रथम तीर्थ आदि बदरी धाम के कपाट खुले, अगले 11 महीने होंगे भगवान के दर्शन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 6:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर