उत्तराखंड में तीन मेडिकल कॉलेज खस्ताहाल, अब चौथे की जिम्मेवारी कैसे निभाएगी सरकार

उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि कोर्ट के आदेश का पालन करना सरकार का काम है. कोर्ट ने जो भी गाइडलाइन सरकार को दिए हैं हम उसका अक्षरश: पालन करेंगे.

Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: December 8, 2018, 6:38 PM IST
उत्तराखंड में तीन मेडिकल कॉलेज खस्ताहाल, अब चौथे की जिम्मेवारी कैसे निभाएगी सरकार
धन सिंह रावत, उच्च शिक्षा मंत्री
Deepankar Bhatt
Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: December 8, 2018, 6:38 PM IST
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज का सरकार को सौंपा जाना कई सवाल खड़े कर रहा है. सबसे बड़ा सवाल ये कि जो सरकार अपने 3 बीमार सरकारी मेडिकल कॉलेज नहीं चला पा रही है वो एक और मेडिकल कॉलेज का सिस्टम कैसे चलाएगी ?

उत्तराखंड में अब सरकारी मेडिकल कॉलेजों की संख्या 3 से बढ़कर 4 हो चुकी है. श्रीनगर, हल्द्वानी और दून मेडिकल कॉलेज के साथ नया नाम सुभारती मेडिकल कॉलेज का जुड़ा है. सुप्रीम कोर्ट ने इसे उत्तराखंड सरकार को सौंप दिया है. लेकिन सवाल है कि जिस राज्य के 3 सरकारी मेडिकल कॉलेजों की हालत खराब हो, वहां चौथे मेडिकल कॉलेज को सरकार चलाएगी कैसे ? हालांकि विभाग और मंत्री दावे कर रहे हैं कि व्यवस्था बना ली जाएगी.

इस बारे में उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि कोर्ट के आदेश का पालन करना सरकार का काम है. कोर्ट ने जो भी गाइडलाइन सरकार को दिए हैं हम उसका अक्षरश: पालन करेंगे.

सरकार और शासन के दावे अक्सर खोखले साबित होते हैं. अगर ऐसा न होता तो दून मेडिकल कॉलेज में प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की फर्श पर मौत नहीं होती. साथ ही श्रीनगर मेडिकल कॉलेज सेना को सौंपने की नौबत नहीं आती. साफ है कि हालात खराब हैं और सुधरने की उम्मीद भी नहीं के बराबर है. ऐसे में 3 बीमार सरकारी मेडिकल कॉलेजों के साथ चौथे सुभारती मेडिकल कॉलेज का सिस्टम यहां की सरकार और शासन चला पाएगी, इसकी उम्मीद कम ही लगती है.

ये भी देखें - VIDEO: सीएम ने रं महोत्सव में की शिरकत, योजनाओं का किया शिलान्यास

ये भी देखें - VIDEO: पाण्डव नृत्य की युगों पुरानी परंपरा है, पूर्वजों के वचन को निभा रहे पहाड़वासी

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर