सतपाल महाराज की केंद्र सरकार से मांग- पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए टिबरसैंण महादेव यात्रा की मिले अनुमति
Dehradun News in Hindi

सतपाल महाराज की केंद्र सरकार से मांग- पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए टिबरसैंण महादेव यात्रा की मिले अनुमति
पर्यटन व संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने राज्य टूरिज्म के लिए प्रस्तावों पर केंद्रीय मंत्रियों से की मुलाकात (फाइल फोटो)

उत्तराखंड के पर्यटन और संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज (Tourism and Culture Minister Satpal Maharaj) ने गुरुवार को केंद्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल से मुलाकात की और उन्हें नीति घाटी में स्थित टिबरसैंण महादेव की महत्ता से अवगत कराते हुए कहा कि यहां भी अमरनाथ की तरह बहुत बड़े प्राकृतिक शिवलिंग की रचना होती है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड के पर्यटन और संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज (Tourism and Culture Minister Satpal Maharaj) ने आज उत्तराखंड पर्यटन (Uttarakhand Tourism) के विकास से संबंधित कई मुद्दों पर केंद्रीय कैबिनेट मंत्रियों से मुलाकात की राज्य में आल वेदर सड़क निर्माण (All Weather Road) से लेकर टूरिज्म को बढ़ावा देने वाले प्रदेश सरकार के कई प्रस्तावों को लेकर उन्होंने चर्चा की और इन प्रस्तावों की जल्द स्वीकृति की मांग की. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह (Cabinate Minister Rtd.Gen. VK Singh) ने इसके लिए जल्दी ही राज्य का दौरा करने का आश्वासन भी दिया है.

टिबरसैंण महादेव यात्रा की मांगी अनुमति
उत्तराखंड सरकार टिबरसैंण महादेव यात्रा की केंद्र से अनुमति मांग रहा है. इसी क्रम में उत्तराखंड के पर्यटन और संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को केंद्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल से मुलाकात की और उन्हें नीति घाटी में स्थित टिबरसैंण महादेव की महत्ता से अवगत कराते हुए कहा यहां भी अमरनाथ की तरह बहुत बड़े प्राकृतिक शिवलिंग की रचना होती है. सतपाल महाराज ने कहा कि अगर केन्द्र सरकार यहां के लिए यात्रा की अनुमति प्रदान करती है तो पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ उत्तराखण्ड के इस अंतिम गांव में भी लोग आकर बसेंगे. उनका कहना था कि जो पर्यटक इस सीमांत गांव की यात्रा करने आयेंगे उन्हें उसका प्रमाण पत्र भी दिया जायेगा. इससे ट्राइबल टूरिज्म को बढ़ावा भी मिलेगा.

सतपाल महाराज ने केंद्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल से राज्य के स्थानीय उत्पादों की पौष्टिकता और औषधीय महत्व के खाद्यान्नों, दालों आदि को सम्मिलित करते हुए इम्यूनिटी बूस्टर के प्रचार-प्रसार राष्ट्रीय स्तर पर करने को कहा पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि टिहरी स्वदेश दर्शन योजना के अन्तर्गत 70.92 करोड़ के सापेक्ष 64.30 करोड़ की धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है. योजना पर निर्माण कार्य 98 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है. वहीं अल्मोड़ा में 475 लाख की लागत से बन रहे फूड क्राफ्ट इन्स्टीट्यूट के लिए भारत सरकार पर्यटन मंत्रालय ने 375 लाख की धनराशि अवमुक्त की गयी है. शेष 100 लाख रूपये की धनराशि अवमुक्त की जानी बाकी है.
ये भी पढ़ें- अस्थाई जेल की खिड़की से फरार हुए दो कैदी, इलाके की नाकाबंदी कर तलाश में जुटी पुलिस



ऑल वैदर रोड के निर्माण की मांग
पर्यटन मंत्री ने बताया कि IHM रामनगर के लिए भारत सरकार की तरफ से 16.20 करोड़ की डीपीआर पर स्वीकृति प्रदान की गयी है. जिसके सापेक्ष भारत सरकार द्वारा 9 करोड़ की धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है. भारत सरकार पर्यटन मंत्रालय के सहयोग से स्थापित किये गये. सतपाल महाराज ने बताया कि स्टेट इन्स्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेन्ट के लिए भी उत्तराखंड सरकार का प्रस्ताव भारत सरकार स्तर पर विचाराधीन है. इसके साथ ही पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने जनरल वीके सिंह से भेंट कर ऑल वैदर रोड जल्द पूरी करने की बात रखी. चारधाम यात्रा के लिए आल वैदर रोड के कार्य को जल्द पूरा करने के लिए सतपाल महाराज ने केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री से अनुरोध किया कि शीतकालीन में सड़कों पर बर्फबारी से पर्यटकों को असुविधा न हो इसके लिए सड़कों पर जमा बर्फ की सफाई का भी उचित प्रबंध होना चाहिए. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने सतपाल महाराज को आश्वासन दिया कि वह शीघ्र ही ऑल वैदर रोड के निरीक्षण हेतु उत्तराखंड भी आयेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading