लाइव टीवी

त्रिवेणी घाट पर गंगा की धारा में कचरा साफ करने के लिए लगाया गया 'ट्रैश बूम'

Ashish Dobhal | News18 Uttarakhand
Updated: December 18, 2018, 2:53 PM IST
त्रिवेणी घाट पर गंगा की धारा में कचरा साफ करने के लिए लगाया गया 'ट्रैश बूम'
त्रिवेणी घाट पर गंगा की धारा में लगाया गया 'ट्रैश बूम', इस तरह करेगा काम

ऋषिकेश में भी 'नमामि गंगे' प्रोजेक्ट के तहत त्रिवेणी घाट पर पश्चिम बंगाल की कंपनी द्वारा पायलट प्रोजेक्ट के रूप में 'ट्रैश बूम' (कूड़ा नियंत्रक यंत्र) उपकरण को लगाया गया है, जिसके जरिए जलधारा को साफ और स्वच्छ किया जाएगा.

  • Share this:
गंगा संरक्षण एवं स्वच्छता के लिए कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं, ताकि गंगा को स्वच्छ और निर्मल बनाकर गंगाजल की गुणवत्ता को कायम रखकर पीने योग्य बनाया जा सके. लिहाजा, केंद्र और राज्य सरकार द्वारा 'नमामि गंगे' और 'स्पर्श गंगा' अभियान के तहत उत्तराखंड में विभिन्न योजनाओं को धरातल पर उतारा जा रहा है.

इसी क्रम में ऋषिकेश में भी  'नमामि गंगे' प्रोजेक्ट के तहत त्रिवेणी घाट पर पश्चिम बंगाल की कंपनी द्वारा पायलट प्रोजेक्ट के रूप में 'ट्रैश बूम' (कूड़ा नियंत्रक यंत्र) उपकरण को लगाया गया है, जिसके जरिए जलधारा को साफ और स्वच्छ किया जाएगा.

कंपनी के साइट इंजीनियर शुभम नेगी के मुताबिक ये उपकरण गंगा की जलधारा की ऊपरी सतह पर काम करता है. साथ ही पानी के मोटे-मोटे कचरे को इकट्ठा कर देता है.

फिलहाल, इस उपकरण को ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट की जलधारा पर पायलट प्रोजेक्ट के रूप में लगाया गया है. अगर ये कारगर साबित हुआ, तो इस उपकरण को उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में नदियों पर भी लगाए जाएगा.

गंगा की जलधारा में सैकड़ों गाद-गदेरे और छोटी-छोटी नदियां मिलती हैं, जिनको साफ रखना सबसे ज्यादा जरूरी है. ऐसे में गंगा स्वच्छता को लेकर चल रहे तमाम प्रोजेक्ट तब तक कारगर सिद्ध नहीं हो सकते, जब तक गंगा को और उसकी सहायक नदियों को उनके मुहाने से लेकर साफ न किया जाए.

 


ये भी देखें:- VIDEO: ऋषिकेश में ठंड से बचने के लिए लोगों ने लिया अलाव का सहाराये भी पढ़ें:- रूका हुआ है जानकी पुल का निर्माण कार्य, सीएम त्रिवेंद्र रावत ने की पूरा करने की घोषणा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 18, 2018, 11:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर