अपना शहर चुनें

States

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया सैन्य धाम का शिलान्यास, शहीदों के परिजनों लिए किया बड़ा ऐलान

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने उत्तराखंड के वीर शहीद सैनिकों के सम्मान में बनने वाले सैन्य धाम का शिलान्यास किया.
सीएम त्रिवेंद्र रावत ने उत्तराखंड के वीर शहीद सैनिकों के सम्मान में बनने वाले सैन्य धाम का शिलान्यास किया.

Sainya Dham in Dehradun: चारधाम की देवभूमि में अब पांचवां धाम सैनिकों का होगा. सीएम त्रिवेंद्र रावत (Trivendra Singh Rawat) ने उत्तराखंड के जिन वीर सैनिकों ने देश के लिए बलिदान दिया, उनके सम्मान में बनने वाले सैन्य धाम का शिलान्यास किया. यह सैन्य धाम दो साल में बनकर तैयार होगा.

  • Last Updated: January 23, 2021, 9:15 PM IST
  • Share this:
देहरादून. सीएम त्रिवेंद सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने शनिवार को देहरादून में सैन्य धाम
(Sainya Dham) का शिलान्यास किया. इस धाम में हर शहीद सैनिक के घर से मिट्टी भी आएगी और निशानी भी आएगी. इसी सैन्य धाम में सीएम ने उत्तराखंड पूर्व सैनिक कल्याण निगम यानि उपनल के ऑफिस का भी शिलान्यास किया. सीएम रावत ने शहीद सैनिकों के परिजनों के लिए बड़ा ऐलान किया.

चारधाम की देवभूमि में अब पांचवां धाम सैनिकों का होगा. उत्तराखंड के जिन वीर सैनिकों ने देश के लिए बलिदान दिया, उनके सम्मान में बनने वाले सैन्य धाम का शिलान्यास सीएम त्रिवेंद्र रावत ने किया. यह सैन्य धाम दो साल में बनकर तैयार होगा.

शहीद सैनिकों के परिजनों को 15 लाख रुपये देने की घोषणा


सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शहीद सैनिकों के परिजनों को दी जाने वाली रकम 10 से बढ़ाकर 15 लाख करने की घोषणा भी की. मुख्यमंत्री ने कहा कि भविष्य में जो भी मुख्यमंत्री बने, वो शपथ यहीं लें.



इस संबंध में सीएम रावत ने अपने ट्वीट में लिखा, 'माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की सोच के अनुरूप पुरकुल गांव में आज सैन्य धाम के शिलान्यास करने का सौभाग्य मिला. सेना के शौर्य के प्रतीक सैन्य धाम के भूमि-पूजन के लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती व पराक्रम दिवस से बड़ा कोई मुहुर्त नहीं हो सकता था.'

Sainya Dham, Trivendra Singh Rawat, martyred soldiers family, Uttarakhand News, Purukul village, purukul village dehradun
सीएम त्रिवेंद सिंह रावत ने शनिवार को देहरादून में सैन्य धाम का शिलान्यास किया.


उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 'इस पावन अवसर पर शहीदों के परिजनों को दिए जाने वाले अनुदान को 10 लाख से बढ़ाकर 15 लाख किए जाने की घोषणा की. राज्य के प्रत्येक शहीद सैनिक के गांव की मिट्टी और शिला, सैन्य धाम के निर्माण के लिए पुरकुल लाए जाने का भी मैंने आग्रह किया है. मेरा मानना है कि इस सैन्य धाम को आने वाले समय में उत्तराखंड में स्थित पांचवे धाम के रूप में मान्यता मिलेगी.'

सैन्य धाम पुरकुल गांव में 5 एकड़ में बनेगा


इस दौरान, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने संबोधन में कहा, 'मैं चाहता हूं कि भविष्य में आने वाले सीएम सैन्य धाम में शपथ ग्रहण करें. प्रधानमंत्री मोदी ने साल 2019 की चुनावी रैली में उत्तराखंड में नया धाम सैन्य धाम जोड़ा था. पीएम मोदी की प्रेरणा से बनने वाला यह सैन्य धाम पुरकुल गांव में 5 एकड़ में बनेगा. इसमें म्यूजियम, थियेटर के साथ सैनिको की वीर गाथाएं लिखी जाएंगी.'

दरअसल, त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड के लाखों सैनिक परिवारों को साथ जोड़ना चाहती हैं ताकि सैनिक और उसके परिवार का साथ लगातार बना रहे. उत्तराखंड में बड़ी संख्या में सैनिक, पूर्व सैनिक, शहीद सैनिकों के परिजन रहते हैं. ऐसे में चुनाव के समय सैन्य पृष्ठभूमि के लोगों की अहम भूमिका होती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज