पिकनिक मनाने आए दो छात्र नदी के तेज बहाव में बहे, मौत

उत्तराखंड के देहरादून (Dehradun) में पिकनिक (picnic) मनाने गए 2 छात्रों की नदी (River) में डूबने से मौत हो गई.

News18 Uttarakhand
Updated: August 11, 2019, 10:02 PM IST
पिकनिक मनाने आए दो छात्र नदी के तेज बहाव में बहे, मौत
उत्तराखंड के देहरादून (Dehradun) में पिकनिक (picnic) मनाने गए 2 छात्रों की नदी (River) में डूबने से मौत हो गई.
News18 Uttarakhand
Updated: August 11, 2019, 10:02 PM IST
उत्तराखंड के देहरादून (Dehradun) में पिकनिक (picnic) मनाने गए 2 छात्रों की नदी (River) में डूबने से मौत हो गई. छात्रों के डूबने की सूचना मिलते ही रेस्क्यू के लिए पुलिस (Police) और एसडीआरएफ (SDRF) की टीम भी पहुंची. जिनके द्वारा रेस्क्यू कर एक छात्र के शव को मौके से ही निकाल लिया गया है. जबकि घंटों चले रेस्क्यू ऑपरेशन में दूसरे छात्र को झाझरा के पास नदी से बरामद किया जा सका है. घटना प्रेमनगर थाना क्षेत्र के नीर नदी की है.

बताया जा रहा है कि आज यूपीईएस के कुछ छात्र पिकनिक मनाने पहुंचे थे. स्थानीय लोगों के मुताबिक, छात्र नदी में नहा रहे थे. जिन्हें ग्रामीणों द्वारा पहाड़ों पर हो रही बरसात के चलते नदी में पानी का जल स्तर बढ़ने की बात से आगाह किया गया था. लेकिन छात्रों ने ग्रामीणों की बात नहीं मानी. जिसका खामियाजा उन्हें अपनी जान देकर चुकाना पड़ा.

मृतक छात्रों की हुई पहचान
मृतक छात्रों की पहचान हो गई है. एक छात्र का नाम अभिषेक कंडवाल है. अभिषेक कंडवाल बीएससी प्रथम वर्ष का छात्र था. जानकारी के मुताबिक, अभिषेक के पिता देहरादून IMA में तैनात हैं, जो रविवार को ही उसे लेकर हल्द्वानी से लौटे थे. वहीं दूसरे मृतक छात्र का नाम मिहिर भुटेजा है, जो दिल्ली का रहने वाला था और बीटेक कंप्यूटर साइंस में फर्स्ट ईयर का छात्र था.

बारिश के चलते गंगा और यमुना सहित कई नदियां उफान पर
बता दें, उत्तराखंड के ज्यादातर हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश के चलते गंगा और यमुना सहित उफनाई नदियों का जलस्तर बढ़ता जा रहा है और भूस्खलन और पहाड़ी से पत्थर गिरने की घटनाओं के कारण प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों सहित दर्जनों मोटर मार्ग यातायात के लिए अवरूद्ध हो गए हैं. पिथौरागढ-तवाघाट राष्ट्रीय राजमार्ग पिथौरागढ में दोबाट के पास, ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग टिहरी जिले में आगराखाल के पास, ऋषिकेश-केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग रूद्रप्रयाग जिले में बांसवाडा के पास मलबा आने के कारण यातायात के लिए अवरूद्ध है. इनके अलावा प्रदेश में करीब 80 अन्य मार्ग भूस्खलन के कारण अवरूद्ध हैं जिन्हें खोलने का प्रयास किया जा रहा है.

मौसम विभाग द्वारा जारी पूर्वानुमान के अनुसार, प्रदेश के ज्यादातर स्थानों पर फिलहाल बारिश का क्रम बने रहने की संभावना है. जबकि 13 और 14 अगस्त को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.
Loading...

(रिपोर्ट- अवनीश पाल)

ये भी पढ़ें--

उफनती अलकनंदा में गिरी कार, स्विफ्ट में सवार सभी यात्री बहे

पति-पत्नी के झगड़े में करीब सवा घंटे रूकी रही जनता एक्सप्रेस
First published: August 11, 2019, 10:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...