Home /News /uttarakhand /

uksssc paper leak case big updates stf may act against more leaders arrested officers termination possible

Paper Leak Case: भर्ती किंग के बाद ये नेता STF के रडार में; अरेस्ट अपर सचिवों की बर्खास्तगी संभव, सभी बड़े अपडेट

उत्तराखंड में पेपर लीक मामले में अभी और गिरफ्तारियों के आसार हैं.

उत्तराखंड में पेपर लीक मामले में अभी और गिरफ्तारियों के आसार हैं.

उत्तराखंड सेवा चयन आयोग में भर्ती परीक्षा के पेपर लीक मामले में कुछ और नेताओं के नाम STF को मिले हैं, जिन पर जल्द कार्रवाई संभव है. इधर, अरेस्ट किए गए दो निजी सचिवों पर एक्शन के लिए कथित तौर पर सचिवालय प्रशासन ने न्याय विभाग से राय मांगी है. ये दोनों ही अधिकारी प्रोबेशन पीरियड पर थे.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड के अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में भर्ती पेपर लीक मामले को लेकर एक तरफ एसटीएफ कुछ और राजनेताओं को गिरफ्तार करने की ओर दिख रही है, तो वहीं गिरफ्तार किए जा चुके दो अपर सचिवों को बर्खास्त किया जा सकता है. पुलिस और प्रशासन के इस एक्शन मोड के बीच कांटों का ताज बन चुके इस आयोग को नया मुखिया भी सौंप दिया गया. अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के नये सचिव के तौर पर सुरेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार को आयोग में जॉइनिंग कर ली और अपनी प्राथमिकताओं के बारे में बताया.

सुरेंद्र सिंह रावत ने बताया कि सभी लटकी भर्ती परीक्षाओं को समय पर करवाना उनकी प्राथमिकताओं में रहेगा. इसके अलावा एग्जाम के दौरान आयोग से कहां चूक हुई? इसकी समीक्षा भी वह करवाएंगे. उन्होंने कहा कि नकल विरोधी ड्राफ्ट भी सरकार को भेजा गया है, सरकार जो भी फैसला लेगी, उस पर काम किया जाएगा. इधर, पूर्व सचिव संतोष बड़ोनी का कहना है कि उन्होंने खुद 5 एफआईआर भर्ती गड़बड़ी की शिकायत के बाद करवाईं.

विधायक के ‘खास’ शक के दायरे में

UKSSSC में पेपर लीक मामले में पकड़े गए भर्ती किंग जिला पंचायत सदस्य हाकम सिंह की गिरफ्तारी के बाद राजनैतिक गलियारों में हलचल शुरू हो गई. STF मान रही है कि इस पूरे नेक्सस में कुछ और नेता शामिल हैं और उनके खिलाफ भी जल्द कार्रवाई हो सकती है. STF के एसएसपी अजय सिंह का कहना है कि हाकम सिंह ने उत्तरकाशी में कुछ जिला पंचायत सदस्यों, ग्राम प्रधानों को पेपर साॅल्व करवाया था, जो रडार पर हैं.

सूत्रों की मानें तो ये सभी प्रतिनिधि किसी विधायक के खास बताए जा रहे हैं, जिनसे जल्द पूछताछ के लिए STF की टीम उत्तरकाशी जा सकती है. माना जा रहा है कि आरोपी हाकम सिंह की गलत ढंग से अर्जित की गई संपत्ति पर भी शासन को जल्द रिपोर्ट भेजी जाएगी. गौरतलब है कि 22 सितम्बर से शुरू हुई भर्ती परीक्षा में पेपर लीक मामले में FIR के बाद STF 18 आरोपियों को अरेस्ट कर चुकी है. करीब 100 पेपर देने वाले अभ्यर्थियों से भी STF ने पूछताछ की है.
(सुनील नवप्रभात और भारती सकलानी के इनपुट्स के साथ)

Tags: Paper Leak, Uttarakhand Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर