Home /News /uttarakhand /

जंगली जानवरों से नुक़सान पर हुई चर्चा, सरकार ने माना बंदर, सूअर बड़ी समस्या

जंगली जानवरों से नुक़सान पर हुई चर्चा, सरकार ने माना बंदर, सूअर बड़ी समस्या

संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पन्त ने बहस में हिस्सा लेते हुए कहा कि अलग-अलग फसलों के लिए नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने अलग-अलग मुआवज़ा तय किया है. (फ़ाइल फ़ोटो)

संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पन्त ने बहस में हिस्सा लेते हुए कहा कि अलग-अलग फसलों के लिए नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने अलग-अलग मुआवज़ा तय किया है. (फ़ाइल फ़ोटो)

पंत ने कहा कि सूअर से होने वाले नुक़सान को देखते हुए सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में फ़सल को नुक़सान पहुंचाने वाले सूअर को मारने की इजाज़त दे दी है.

    विधानसभा में आज राज्य की खेती के सबसे बड़े दुश्मन, बंदर और सूअर, से होने वाले नुक़सान पर चर्चा की गई. बता दें कि राज्य के पहाड़ी क्षेत्र में बंदरों और सुअरों की वजह से सबसे ज़्यादा नुक़सान होता है और खेती की दुर्दशा के पीछे ये दोनों भी एक बड़े कारण हैं. खेती के नुक़सानदेह होने की वजह से लोग खेती छोड़ रहे हैं. इससे खेत बंजर हो रहे हैं और पलायन बढ़ रहा है.

    विधानसभा में विपक्ष ने जंगली जानवरों से खेती को नुक़सान का मुद्दा उठाया. विपक्ष ने इस पर नियम  310 के तहत चर्चा की मांग की लेकिन विधानसभा अध्यक्ष ने नियम 58 में चर्चा करने की अनुमति दी.

    संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पन्त ने बहस में हिस्सा लेते हुए कहा कि अलग-अलग फसलों के लिए नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने अलग-अलग मुआवज़ा तय किया है. उन्होंने  भी बंदरों और सूअरों को बड़ी समस्या माना.

    पंत ने कहा कि सूअर से होने वाले नुक़सान को देखते हुए सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में फ़सल को नुक़सान पहुंचाने वाले सूअर को मारने की इजाज़त दे दी है. संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि हाथियों से होने वाले नुक़सान को रोकने के लिए भी व्यवस्था की गई है.

    बन्दर बाड़ों और हाथी कॉरिडोर पर मंत्री के जवाब पर कांग्रेस ने सवाल उठाए. इस पर संसदीय कार्यमंत्री ने विपक्ष के महत्वपूर्ण सुझाव पर अमल करने की बात कही.

    आज सदन में दो विधेयक पारित हुए. उत्तराखंड कृषि उत्पाद मंडी (संशोधन) विधेयक, 2019 और भारतीय भागीदारी (उत्तराखंड संशोधन) विधेयक, 2019 को सदन ने पारित किया.

    Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

    Tags: Assembly, Budget 2019, Uttarakhand BJP, Uttarakhand Congress, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर