Home /News /uttarakhand /

Harak Singh Rawat ने अपराध किया था, मेरी सरकार गिराई थी... हरीश ने उनकी कांग्रेस में एंट्री को लेकर कही ये बात

Harak Singh Rawat ने अपराध किया था, मेरी सरकार गिराई थी... हरीश ने उनकी कांग्रेस में एंट्री को लेकर कही ये बात

हरीश रावत ने हरक सिंह को माफ करने का इशारा किया.

हरीश रावत ने हरक सिंह को माफ करने का इशारा किया.

Uttarakhand Assembly Chunav: न्यूज 18 से बातचीत में हरीश रावत ने कहा कि हरक सिंह रावत को पार्टी में लेना न लेना इसका फैसला पार्टी को लेना है, लेकिन पार्टी सभी फैक्ट्स को देखकर ही कोई फैसला लेती है. हरदा ने हालांकि यह भी कहा कि हरक सिंह रावत ने अपराध किया था. हरक सिंह रावत ने न सिर्फ मेरी सरकार गिराई थी, बल्कि उत्तराखंड में विकास कार्य को भी रोका था. उन्होंने पाप किया था.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. बीजेपी (BJP) से निष्कासित पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) 6 साल बाद एक बार फिर से कांग्रेस (Congress) में वापसी को बेकरार दिख रहे हैं. यहां तक कि उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish Rawat) से 100 बार माफ़ी मांगने की बात भी कही है. बावजूद इसके कांग्रेस आला कमान में हरक सिंह रावत की एंट्री को लेकर को बात अभी तक नहीं बन पायी है. मिल रही जानकारी के मुताबिक हरक सिंह रावत लगातार कांग्रेस के संपर्क में हैं, लेकिन हरीश रावत की वजह से उनकी जॉइनिंग पर अभी तक कोई फैसला नहीं हो सका है. न्यूज 18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में हरीश रावत ने हालांकि हरक सिंह रावत को माफ़ करने की बात तो कही, लेकिन साथ ही उन्हें अपराधी भी बता दिया.

न्यूज 18 से बातचीत में हरीश रावत ने कहा कि हरक सिंह रावत को पार्टी में लेना न लेना इसका फैसला पार्टी को लेना है, लेकिन पार्टी सभी फैक्ट्स को देखकर ही कोई फैसला लेती है. हरदा ने हालांकि यह भी कहा कि हरक सिंह रावत ने अपराध किया था. हरक सिंह रावत ने न सिर्फ मेरी सरकार गिराई थी, बल्कि उत्तराखंड में विकास कार्य को भी रोका था. उन्होंने पाप किया था.

हरक सिंह रावत से कोई नाराजगी नहीं
हरीश रावत ने कहा, “मेरी हरक सिंह रावत से कोई नाराजगी नहीं है. मैं लोकतांत्रिक व्यक्ति हूं. मैं कैसे किसी से नाराज हो सकता हूं, लेकिन यह बात सिद्धांत की है. उन्होंने अपराध किया था. लोकतंत्र के साथी ने उत्तराखंड के विकास को भी रोका था. क्या निर्णय करना है, क्या निर्णय नहीं करना है. यह प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और सीएलपी को तय करना है.”

कई नाम क्लियर हो चुके
हरीश रावत ने कहा कि कल स्क्रीनिंग कमेटी की मीटिंग है और सीईसी की बैठक है. कई नाम क्लियर हो चुके हैं, लेकिन पार्टी रणनीतिक तौर पर ही घोषणा करेगी. कई कैंडिडेट से जिनको इशारा कर दिया गया है कि आप क्षेत्र में काम करें.

Tags: Harak singh rawat, Harish rawat, Uttarakhand Assembly Election, Uttarakhand elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर