शीतकालीन सत्र में सत्ता पक्ष के विधायकों ने अपनी ही सरकार को घेरा

इंदिरा हृदयेश ने कहा कि बीजेपी सरकार में बीजेपी के ही विधायक परेशान हैं. सड़क तक बनाने के लिए कांग्रेस के सत्ता में आने का इंतजार कर रहे हैं.

Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 8:00 PM IST
शीतकालीन सत्र में सत्ता पक्ष के विधायकों ने अपनी ही सरकार को घेरा
मदन कौशिक, सरकारी प्रवक्ता
Deepankar Bhatt
Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 8:00 PM IST
देहरादून में विधानसभा के चार दिन के शीतकालीन सत्र में खास बात ये देखनी को मिली कि सरकार से ज्यादातर सवाल बीजेपी विधायकों ने किए. बीजेपी विधायकों ने अपनी ही सरकार को घेरा. वहीं कांग्रेस कभी सड़क पर सम्मान के लिए लड़ती नजर आई और कभी पत्रकारों के सवालों का जवाब खोजते.

विधानसभा सत्र के चौथे दिन प्रश्नकाल में गौवंश के संरक्षण को लेकर मंत्री रेखा आर्य अपनी ही पार्टी के विधायक को सवाल का जवाब नहीं दे सकीं. मामले में जब सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक से सवाल पूछा गया कि ऐसा क्यों है कि सरकार को उसी के विधायक घेर रहे हैं ? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस के पास कोई सवाल नहीं है तब बीजेपी विधायक जनहित के मुद्दों की बात कर रहे हैं.

वहीं जब इंदिरा हदयेश से पूछा गया कि जब विपक्ष का काम बीजेपी के विधायक ही कर दे रहे हैं तो विपक्ष का मतलब क्या है ? इस पर इंदिरा हृदयेश ने कहा कि बीजेपी सरकार में बीजेपी के ही विधायक परेशान हैं. सड़क तक बनाने के लिए कांग्रेस के सत्ता में आने का इंतजार कर रहे हैं. साफ है कि 57 की सरकार पर अपने ही विधायकों के सवाल भारी पड़ रहे हैं. साथ ही जब विपक्ष का काम सत्ता के विधायक कर दे रहे हैं तब ऐसे में 11 विधायकों वाला विपक्ष विधानसभा में चैन की बंसी बजा रहा है.

ये भी पढ़ें - गौवंश संरक्षण पर भाजपा विधायक के सवाल का जवाब नहीं दे पाईं पशुपालन मंत्री

ये भी पढ़ें - 'केदारनाथ' पर अजय भट्ट ने कहा: संस्कृति पर वार करती फिल्म पर रोक लगनी चाहिए

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर