अपना शहर चुनें

States

आज उत्तराखंड की नई मुख्यमंत्री बनेंगी परचून व्यवसायी की बेटी, 21 साल की सृष्टि होंगी 1 दिन की CM

एक दिन के लिए उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की जगह लेंगी सृष्टि गोस्वामी.
एक दिन के लिए उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की जगह लेंगी सृष्टि गोस्वामी.

Uttarakhand News: उत्तराखंड को 24 जनवरी को नया मुख्यमंत्री मिलेगा. महज 21 साल की सृष्टि गोस्वामी (Srishti Goswami) 1 दिन के लिए उत्तराखंड सरकार (Government) की कमान संभालेंगी.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) को 24 जनवरी को नया 'मुख्यमंत्री' मिलेगा. महज 21 साल की सृष्टि गोस्वामी (Srishti Goswami) 1 दिन के लिए उत्तराखंड सरकार (Government) की कमान संभालेंगी. इस दौरान वे कई विभागों के प्रजेंटेशन देखेंगी और कार्यों की समीक्षा भी करेंगी. सृष्टि के पिता प्रवीण पुरी दौलतपुर में ही परचून की दुकान चलाते हैं, जबकि मां सुधा गोस्वामी गृहिणी हैं. राज्य के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत (CM Trivendra Singh Rawat) ने सृष्टि को एक दिन का मुख्यमंत्री बनाने की हरी झंडी पहले ही दे दी है. बालिका दिवस के अवसर पर आज की औपचारिकता पूरी की जाएगी. राज्य में पहली बार हो रहे इस घटनाक्रम को लेकर लोगों में उत्सुकता देखी जा सकती है. इसको लेकर तैयारी भी लगभग पूरी कर ली गई है.

बता दें कि इससे पहले सृष्टि गोस्वामी को 2018 में बाल विधानसभा संगठन में बाल विधायक भी चुना गया था. सृष्टि के पिता प्रवीण पुरी ने कहा कि आज उनका सिर गर्व सर ऊंचा हो गया है. उनकी बेटी आज उस मुकाम पर पहुंच गई है, जहां पहुंचने के लिए लोग सपने देखते हैं. पूरे देश में पहली बार होने ऐसा होने जा रहा है, जब मेरी बेटी एक दिन के लिए ही सही प्रदेश की मुख्यमंत्री बनेगी.

अफसरों को देंगी सुझाव


मूलत: हरिद्वार की रहने वाली सृष्टि का कहना है कि उनकी  प्राथमिकता है कि वह 1 दिन की मुख्यमंत्री के तौर पर अभी तक के हुए विकास कार्यों को देख सकें. साथ ही अधिकारियों को हो कुछ सुझाव भी देना चाहेंगी. साथ ही सीएम के कामकाज को समझना चाहेंगी. ताकि वो जान सकें कि एक मुख्यमंत्री किन परिस्थितियों में काम करती हैं. इधर सृष्टि की मां सुधा गोस्वामी का कहना है की जो मुकाम उसने हासिल किया है, उससे एक संदेश देश का हर माता-पिता को मिलेगा कि बेटियों को कभी आगे बढ़ने से रोकना नहीं चाहिए. सृष्टि गोस्वामी फिलहाल बीएसएम पीजी कॉलेज, रुड़की से बीएससी एग्रीकल्चर कर रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज