गैरसैंण में होगी उत्तराखण्ड भाषा संस्थान की स्थापना, 50 लाख का प्रावधान ज़मीन खरीदने के लिएः CM  

मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में सुरक्षा के दृष्टिगत 3 हज़ार से ज़्यादा होमगार्ड्स की नियुक्ति किए जाने को हरी झंडी दे दी और ज़रूरत के अनुरूप नर्सों की भर्ती तुरंत करने के संशोधन करने को भी कहा.
मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में सुरक्षा के दृष्टिगत 3 हज़ार से ज़्यादा होमगार्ड्स की नियुक्ति किए जाने को हरी झंडी दे दी और ज़रूरत के अनुरूप नर्सों की भर्ती तुरंत करने के संशोधन करने को भी कहा.

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए कि प्रदेश के सभी विभागों में पदोन्नति से सम्बन्धित चयन प्रक्रिया में किसी तरह की देरी न हो.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 8:13 PM IST
  • Share this:
देहरादून. अनलॉक की प्रक्रिया आगे बढ़ने के साथ हुए सरकार पूरी तरह सक्रिय नज़र आ रही है. मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मंगलवार को कई लोकप्रिय फ़ैसले किए. पहला तो उत्तराखण्ड भाषा संस्थान की स्थापना गैरसैंण में किए जाने के निर्देश दिए. संस्थान के लिए ज़मीन खरीदने के लिए 50 लाख की धनराशि का भी प्रावधान कर दिया गया. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में सुरक्षा के दृष्टिगत 3 हज़ार से ज़्यादा होमगार्ड्स की नियुक्ति किए जाने को हरी झंडी दे दी और ज़रूरत के अनुरूप नर्सों की भर्ती तुरंत करने के संशोधन करने को कहा. मुख्यमंत्री ने पदोन्नति में किसी भी तरह की देरी को खत्म करने के भी निर्देश दिए.

गैरसैंण के विकास पर नज़र

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज कहा कि गैरसैंण को राज्य की ग्रीष्म कालीन राजधानी बनाए जाने के बाद त्रिवेंद्र सरकार ने वहां विभिन्न संस्थानों की स्थापना की प्रक्रिया शुरू कर दी है. गैरसैंण में उत्तराखण्ड भाषा संस्थान की स्थापना इसी दिशा में बढ़ाया गया कदम है.



मुख्यमंत्री ने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी के अनुरूप आवश्यक सुविधाओं के विकास की कार्ययोजना बनायी जा रही है. उत्तराखण्ड के केन्द्र बिंदु गैरसैंण के विकास एवं इसके समीपवर्ती नैसर्गिक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किए जाने पर ध्यान दिया जा रहा है. इसके साथ ही युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए भी विभिन्न योजनायें संचालित की गई हैं.
होमगार्ड्स की भर्ती को मंज़ूरी, नर्सों की भर्ती के लिए संशोधन के आदेश

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कुम्भ मेला 2021, हरिद्वार की व्यवस्थाओं की समीक्षा के क्रम में कुम्भ मेले में आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के दृष्टिगत पुलिस और अन्य अनुषांगिक इकाइयों के साथ होमगार्ड्स की नियुक्ति के प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान की है. मुख्यमंत्री ने कुम्भ मेले की सुरक्षा व्यवस्था के लिए 3250 होमगार्डस की नियुक्ति की स्वीकृति प्रदान की है.

मुख्यमंत्री ने प्राविधिक शिक्षा विभाग के माध्यम से किये प्रदेश में नर्सों की आवश्यकता के दृष्टिगत उनकी शीघ्र नियुक्ति करने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने इस सम्बन्ध में उत्तराखण्ड चिकित्सा सेवा चयन बोर्ड में नर्सों की भर्ती सम्बन्धी प्रावधानों में ज़रूरत के मुताबिक समयबद्ध रूप से एक बार के लिए संशोधन किए जाने के भी निर्देश दिए ताकि नर्सों की शीघ्र आवश्यकता के अनुरूप तत्काल प्राविधिक शिक्षा विभाग के स्तर पर भर्ती की जा सके.

प्रमोशन न टालें

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज स्पष्ट निर्देश दिए कि प्रदेश के सभी विभागों में पदोन्नति से सम्बन्धित चयन प्रक्रिया में किसी तरह की देरी न हो. मुख्यमंत्री ने कहा कि विभागाध्यक्षों को यह सुनिश्चित करना होगा कि लोक सेवा आयोग के स्तर पर आयोजित होने वाली विभागीय चयन समिति की बैठकें निर्धारित समय पर हों. उन्होंने कहा कि आयोग के स्तर पर एक बार चयन सम्बन्धी तिथि निर्धारण के बाद उसमें परिवर्तन का अनुरोध करने की परम्परा को खत्म करना होगा.

दरअसल उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग ने मुख्यमंत्री को बताया था कि लोक सेवा आयोग के स्तर पर पदोन्नति किए जाने के लिए संबंधित चयन के लिए विभागीय चयन समिति की तिथि निर्धारित होने के बाद अंतिम समय में संबंधित विभागों द्वारा नामित अधिकारी के कहीं और व्यस्त होने के चलते तारीख बदलने को कहते हैं. इसकी वजह से पदोन्नति से सम्बन्धित चयनों में अनावश्यक विलम्ब होता है.

मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद इस सम्बन्ध में मुख्य सचिव ने शासनादेश जारी कर स्पष्ट किया गया कि उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग में विभागीय चयन समिति की तिथि निर्धारित होने के बाद सम्बन्धित विभाग के स्तर पर किसी भी दशा में तिथि परिवर्तन का अनुरोध न किया जाए. इसके बजाय चयन समिति की बैठक में प्रतिभाग किए जाने हेतु अन्य अधिकारियों को नामित किया जाए ताकि विभागों में लम्बित पदोन्नति आदि की कार्रवाई समय पर हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज