होम /न्यूज /उत्तराखंड /Uttarakhand Rains Update : मौतों का आंकड़ा 54 हुआ, 7 अब भी लापता, अमित शाह का हवाई सर्वे व मीटिंग आज

Uttarakhand Rains Update : मौतों का आंकड़ा 54 हुआ, 7 अब भी लापता, अमित शाह का हवाई सर्वे व मीटिंग आज

अमित शाह शनिवार को कश्मीर का दौरा कर सकते हैं.

अमित शाह शनिवार को कश्मीर का दौरा कर सकते हैं.

Amit Shah in Uttarakhand : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बुधवार रात देहरादून पहुंचे. इधर राज्य में कुछ रास्ते खुलने से फ ...अधिक पढ़ें

    देहरादून/नैनीताल. उत्तराखंड में रविवार से शुरू हुई मूसलाधार बारिश के चलते मौतों के आंकड़े में इज़ाफा दर्ज किया गया. ताज़ा अपडेट के अनुसार रेस्क्यू टीमों द्वारा 2 और शव बरामद करने के बाद आपदाओं और दुर्घटनाओं में मरने वालों की संख्या 54 पहुंच गई, जिसमें से नैनीताल में 28 मौतें दर्ज हुईं. नैनीताल के रामगढ़ में अब भी 7 लोग लापता बताए जा रहे हैं. इधर, गृह मंत्री अमित शाह बुधवार देर रात उत्तराखंड पहुंचे और आज गुरुवार को वह आपदाग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने जाएंगे. वहीं धीरे धीरे हालात उत्तराखंड में सुधरते हुए बताए जा रहे हैं और चार धाम यात्रा सुचारू हुई है, लेकिन बद्रीनाथ हाईव फिलहा ब्लॉक है.

    रिव्यू मीटिंग के बाद BJP संगठन से मिलेंगे शाह
    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह देहरादून एयरपोर्ट पर बुधवार रात पहुंचे, जहां मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत अन्य नेताओं ने उनकी अगवानी की. उत्तराखंड में आपदा का जायज़ा लेने के लिए पहुंचे अमित शाह ने नेताओं व अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक की और गुरुवार को वह खास तौर से कुमाऊं के सर्वाधिक प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करने जाएंगे. आज दिन में शाह रिव्यू मीटिंग करेंगे और उसके बाद भाजपा संगठन से भी मुलाकात करेंगे. इधर, सबसे ज़्यादा नुकसान नैनीताल ज़िले में होना बताया जा रहा है.

    uttarakhand news today, uttarakhand landslide update, heavy rains in uttarakhand, uttarakhand disaster, उत्तराखंड ताजा समाचार, उत्तराखंड भूस्खलन, उत्तराखंड में बारिश

    अमित शाह के उत्तराखंड पहुंचने की सूचना संबंधी एएनआई का ट्वीट.

    नैनीताल में दो अहम सड़कें खुलीं
    राज्य के साथ नैनीताल को जोड़ने वाली तीन में से दो प्रमुख सड़कें कालाढूंगी-नैनीताल और भीमताल होते हुए भवाली और काठगोदाम वाली सड़क फिर से शुरू होने की खबरें हैं. नैनीताल-हल्द्वानी रोड सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होती है, लेकिन यह अब भी बंद है और उम्मीद जताई जा रही है कि यह भी जल्द शुरू हो सकती है. भारी बारिश के दौर से पहले रोज़ाना नैनीताल में करीब 15,000 पर्यटक आ रहे थे लेकिन अब नए पर्यटकों की संख्या शून्य है.

    धामी ने किया रामगढ़ का दौरा
    बादल फटने की घटना से प्रभावित रामगढ़ इलाके के दौरे पर मुख्यमंत्री धामी पहुंचे. उनके साथ केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट भी मौजूद थे. यहां पीड़ितों से मुलाकात के बाद धामी ने कहा कि सबसे बड़ी प्राथमिकता बंद रास्तों को खुलवाना ही है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक आपदा में मारे गए लोगों के पोस्टमार्टम करवाए जाने की बात भी धामी ने कही.

    Tags: Heavy Rainfall, Uttarakhand Disaster, Uttarakhand landslide, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें