Home /News /uttarakhand /

कर्णप्रयाग में वोटिंग कल, बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद स्थगित हुआ था चुनाव

कर्णप्रयाग में वोटिंग कल, बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद स्थगित हुआ था चुनाव

चमोली जिले की कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर कल मतदान होगा. इस सीट पर बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा था. प्रदेश में यह दूसरा मौका है जब किसी प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा है. उत्तराखंड बनने के बाद यह दूसरा मौका है जब विधानसभा चुनाव के दौरान प्रत्याशी की मौत के बाद मतदान स्थगित करना पड़ा है.

चमोली जिले की कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर कल मतदान होगा. इस सीट पर बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा था. प्रदेश में यह दूसरा मौका है जब किसी प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा है. उत्तराखंड बनने के बाद यह दूसरा मौका है जब विधानसभा चुनाव के दौरान प्रत्याशी की मौत के बाद मतदान स्थगित करना पड़ा है.

चमोली जिले की कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर कल मतदान होगा. इस सीट पर बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा था. प्रदेश में यह दूसरा मौका है जब किसी प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा है. उत्तराखंड बनने के बाद यह दूसरा मौका है जब विधानसभा चुनाव के दौरान प्रत्याशी की मौत के बाद मतदान स्थगित करना पड़ा है.

अधिक पढ़ें ...
    चमोली जिले की कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर कल मतदान होगा. इस सीट पर बसपा प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा था. प्रदेश में यह दूसरा मौका है जब किसी प्रत्याशी की मौत के बाद चुनाव स्थगित करना पड़ा है.
    उत्तराखंड बनने के बाद यह दूसरा मौका है जब विधानसभा चुनाव के दौरान प्रत्याशी की मौत के बाद मतदान स्थगित करना पड़ा है.

    पूर्व में बाजपुर सीट पर सरकार बनने के बाद मतदान स्थगित हुआ था तो दूसरी बार कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर. मतगणना से पहले 9 मार्च को यानी गुरुवार को कर्णप्रयाग में वोटिंग होगी. हालांकि कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही कर्णप्रयाग की जंग जीतने का दावा कर रही हैं.

    70 सदस्यीय उत्तराखंड विधानसभा की कर्णप्रयाग सीट पर 9 मार्च को वोटिंग होनी है. मौजूदा चुनावी प्रक्रिया के दौरान बसपा प्रत्याशी के मौत के चलते इस सीट पर मतदान स्थगित हुआ था. निर्वाचन आयोग ने सिर्फ बीएसपी को नये प्रत्याशी का नामांकन करने के बाद 9 मार्च को वोटिंग के निर्देश दिए थे.

    इस कड़ी में बहुजन समाज पार्टी ने ज्योति कनवासी को मैदान में उतारा है. कांग्रेस प्रत्याशी और मौजूदा विधायक डा अनुसूईया प्रसाद मैखुरी, बीजेपी के सुरेंद्र नेगी, भाकपा के इंद्रेश मैखुरी समेत अन्य सभी पूर्ववत चुनावी मैदान में हैं.

    उत्तराखंड गठन के बाद ये दूसरा मौका है जबकि किसी राष्ट्रीय पार्टी के प्रत्याशी की मौत के बाद मतदान स्थगित हुआ है. कांग्रेस प्रवक्ता मथुरा दत्त जोशी और बीजेपी प्रवक्ता सुरेश जोशी दोनों अपनी अपनी जीत का दावा कर रहे हैँ.

    आपको बता दें कि 2007 यानि दूसरे विधानसभा चुनावों के दौरान बाजपुर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी जनक राज शर्मा की सडक हादसे में मौत हुई थी. जिसके बाद निर्वाचन आयोग ने मतदान स्थगित कर दिया था.

    उस वक्त बीजेपी की भुवन चंद्र खंडूरी के नेतृत्व में सरकार गठन के बाद वोटिंग हुई जिसमें बाजपुर के तत्कालीन बीजेपी विधायक अरविंद पांडे चुनाव जीते थे. मौजूदा चुनावों के दौरान कर्णप्रयाग सीट पर बीएसपी प्रत्याशी कुलदीप कनवासी की मौत के चलते मतदान स्थगित हुआ था.

    लेकिन फर्क ये है कि इस सीट पर मतगणना से दो दिन पहले यानि 9 मार्च को वोटिंग हो रही है. यानी कर्णप्रयाग सीट पर निवर्तमान कांग्रेस सरकार के रहते ही मतदान हो रहा है. कांग्रेस, बीजेपी, बीएसपी समेत अन्य सभी दलों के प्रत्याशी जीतने की कोशिशों में लगे हैं.

    Tags: Uttarakhand news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर