दायित्वधारियों को त्रिवेंद्र सरकार का तोहफ़ा... अब तीन गुना ज़्यादा मिलेंगे भत्ते, मानदेय

कांग्रेस का कहना है कि 108 एंबुलेंस सेवा से निकाले गए 717 कर्मचारियों के लिए आपके पास पैसा नहीं है और अपने कार्यकर्ताओं को आप 3 गुना पैसा बढ़ाकर दे रहे हैं.

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: July 24, 2019, 2:44 PM IST
दायित्वधारियों को त्रिवेंद्र सरकार का तोहफ़ा... अब तीन गुना ज़्यादा मिलेंगे भत्ते, मानदेय
मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह द्वारा जारी आदेश के मुताबिक सरकार में दायित्वधारी मंत्री, राज्यमंत्री, विभिन्न आयोगों, निगमों, परिषदों में नियुक्त अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सलाहकारों के मानदेय, भत्ते और अन्य सुविधाओं में तीन गुना तक बढ़ोत्तरी की गई है. (फ़ाइल फ़ोटो)
Sunil Navprabhat
Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: July 24, 2019, 2:44 PM IST
निकाय चुनावों में जीत के साथ बीजेपी ने उत्तराखंड में ट्रिपल इंजन सरकार आने का दावा किया था. अब त्रिवेंद्र रावत सरकार तीन के अंक पर चल रही. आम लोगों को तीन का झटका दिया तो अपनों को तीन गुना फ़ायदा. उत्तराखंड सरकार ने इसी महीने की दस तारीख को पेट्रोल-डीज़ल बढ़ाया था. बारिश की वजह से सब्ज़ियां पहले ही महंगी हैं और बिजली-पानी के बिल भी बढ़े हुए आ रहे हैं. अब जबकि आप और हम अपने बजट को संभालने में लगे हुए, कटौती करने लायक खर्चों का हिसाब लगा रहे हैं राज्य सरकार ने अपनों को तीन गुना तोहफ़ा दिया है. प्रचंड बहुमत की सरकार ने सरकार में मौजूद दायित्वधारियों का मानदेय तीन गुना तक बढ़ा दिया है.

मंगलवार को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह द्वारा जारी आदेश के मुताबिक सरकार में दायित्वधारी मंत्री, राज्यमंत्री, विभिन्न आयोगों, निगमों, परिषदों में नियुक्त अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सलाहकारों के मानदेय, भत्ते और अन्य सुविधाओं में  तीन गुना तक बढ़ोत्तरी कीगई है. भाजपा सरकार में ऐसे दायित्वधारियों की संख्या करीब 45 है.

ये मिलेंगे फ़ायदे


  • मंत्री स्तर वाले दायित्वधारियों का मानदेय मासिक 20,000 रुपये से बढ़ाकर 45,000 कर दिया है,

  • राज्यमंत्री स्तर के दायित्वधारी को अब 15000 के बजाय हर महीने 40,000 रुपये मिलेंगे,

  • अन्य  दायित्वधारियों का मानदेय 13,000 रुपये से बढ़ाकर मासिक 35,000 रुपये कर दिया गया है,

  • Loading...

  • सरकारी वाहन न मिलने की दशा में किराए के वाहन के लिए 50,000 की जगह अब 60,000 रुपये मिलेंगे,

  • दायित्वधारियों के कार्यालय और आवास भत्ते में भी बढ़ोत्तरी की गई है.


'108 कर्मचारियों के लिए पैसे नहीं...'

इस सबसे आपसी खींचतान में उलझी कांग्रेस को सरकार पर बयानों के हमले शुरु करने का मौका मिल गया है. कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी सरकार अपने कार्यकर्ताओं को ख़ुश करने के लिए जनता की कमाई पर डाका डाल रही है.

त्रिवेंद्र सरकार ने 2 को कैबिनेट व 17 को राज्यमंत्री का दर्जा दिया

पार्टी उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना कहते हैं कि यह बहुत गलत परंपरा की शुरुआत है. 108 एंबुलेंस सेवा से निकाले गए 717 कर्मचारियों के वेतन की प्रतिपूर्ति के लिए आपके पास पैसा नहीं है और अपने कार्यकर्ताओं को आप 3 गुना पैसा बढ़ाकर दे रहे हैं.

'अभी तो सिर्फ़ 45 ही बांटे हैं'

सत्ताधारी पार्टी को ज़रूरी नहीं लगता कि वह विपक्ष की बात का जवाब दे. बीजेपी के प्रदेश मंत्री खजानदास कांग्रेस को याद दिलाते हैं कि उनकी सरकार ने 300 लालबत्तियां बांटी थीं. उनकी बात में प्रचंड बहुमत का दंभ भी दिखता है जब वह कहते हैं कि अभी तो बीजेपी सरकार ने सिर्फ़ 45 ही दायित्व बांटे हैं... यानि अभी और दायित्व बांटकर जनता की जेब पर बोझ डालने की आशंका भी वह जताते हैं.

अपने बचाव में बीजेपी बस यही कह रही है कि राजकोष का दुरूपयोग करने वाली कांग्रेस के मुंह से ये बातें अच्छी नहीं लगती.

तीन नई शराब फ़ैक्ट्रियां लगी हैं देवभूमि में... नौकरी मिलेगी सिर्फ़ सवा तीन सौ को

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें
First published: July 24, 2019, 12:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...