लाइव टीवी

कश्मीर में लापता जवान राजेन्द्र सिंह नेगी को लेकर रक्षा मंत्रालय के सम्पर्क में उत्तराखण्ड सरकार

Bharti Saklani | News18 Uttarakhand
Updated: January 13, 2020, 6:51 PM IST
कश्मीर में लापता जवान राजेन्द्र सिंह नेगी को लेकर रक्षा मंत्रालय के सम्पर्क में उत्तराखण्ड सरकार
कश्मीर में 8 तारीख से लापता सैनिक राजेंद्र सिंह नेगी अपनी बीवी बेटी के साथ एक पुरानी तस्वीर में.

सेना की तरफ से बताया गया है कि गुलमर्ग में 20 फ़ीट तक बर्फ़ जमी है. भारत-पाक सीमा में जाने का भी अंदेशा है इसलिए सर्च ऑपरेशन में भी कई दिक्क़ते हैं.

  • Share this:
देहरादून. आठ जनवरी की शाम से कश्मीर के गुलमर्ग में लापता हुए जवान राजेन्द्र सिंह नेगी का 6 दिन बाद भी कुछ पता नहीं चल पाया है. न्यूज़ 18 को सबसे पहले राजेन्द्र सिंह के परिवार ने उनके गायब होने की जानकारी दी थी और सरकार से गुहार लगाई थी वो राजेन्द्र को ढूंढने के लिए सेना से बात करे. सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है कि जवान राजेन्द्र को लेकर वह रक्षा मंत्री से सम्पर्क में हैं. साथ ही कोशिश है कि जवान को सकुशल उनके घर लाया जा सके.

8 तारीख को हुई थी पत्नी से बात 

राजेन्द्र सिंह नेगी के परिवार में माता-पिता, पत्नी और तीन बच्चे हैं जिनका राजेन्द्र सिंह नेगी के गायब होने के बाद से रो-रोकर बुरा हाल है. राजेन्द्र से उनकी पत्नी राजेश्वरी देवी की बात आखिरी बार 8 जनवरी को सुबह 10 बजे हुई थी. इसके बाद सेना 9 तारीख को उनके भाई को कर्णप्रयाग स्थित आवास पर जानकारी दी की 8 तारीख की रात से जवान का पता नहीं चल पा रहा है.

इस ख़बर के बाद राजेन्द्र के भाई अपने माता-पिता को लेकर राजेन्द्र के दून स्थित आ‌वास पहुंचे जहां उनकी पत्नी और बच्चे रहते हैं. ख़बर सुनने के बाद से ही राजेन्द्र की पत्नी का बुरा हाल है. न्यूज़ 18 से बात करते हुए राजेश्वरी देवी ने बताया कि आखिरी बार हुई बातचीत में राजेन्द्र ने कहा था कि गुलमर्ग के हालात बर्फ़बारी के बाद बेहद खराब है. उसके बाद से ही उनका फोन भी रिचार्ज न होने के कारण डिस्कनेक्ट हो गया था.

बर्फ़बारी सर्च में बाधा 

सेना की तरफ से कहा जा रहा है कि रात को गश्त के दौरान अंदेशा जताया जा रहा है कि राजेन्द्र बर्फ में फिसलकर गिर गए और पाक सीमा में चले गए हैं. तबसे सेना भी राजेन्द्र को ढूंढ रही है लेकिन बर्फ़बारी सर्च ऑपरेशन में रोड़ा अटका रही है.

परिवार को ढाढस बंधाने के लिए अभी तक सहसपुर विधायक और मसूरी विधायक अम्बीपुर स्थित उनके निवास पर जा चुके है. राजेन्द्र के भाई बताते हैं कि सेना की तरफ से बताया गया है कि गुलमर्ग में 20 फ़ीट तक बर्फ़ जमी है. भारत-पाक सीमा में जाने का भी अंदेशा है इसलिए सर्च ऑपरेशन में भी कई दिक्क़ते हैं.ये भी देखें: 

पत्नी के साथ ननिहाल पहुंचे आर्मी चीफ बिपिन रावत, बोले- रिटायरमेंट के बाद गांव में रहूंगा

सैन्य धाम में हथियार बनाने की तैयारी, डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री पॉलिसी बना रही सरकार

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 5:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर