उत्तराखंड: कोरोना संक्रमित की मौत के बाद अंतिम संस्कार के दौरान विरोध, राज्यपाल ने जताई चिंता
Dehradun News in Hindi

उत्तराखंड: कोरोना संक्रमित की मौत के बाद अंतिम संस्कार के दौरान विरोध, राज्यपाल ने जताई चिंता
इस तरह के मामले में आई मीडिया रिपोर्ट्स का राज्यपाल ने संज्ञान लिया है.

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) ने कोरोना संक्रमित (COVID-19) की मौत के बाद अंतिम संस्कार के दौरान हुए विरोध के मामलों पर चिंता जताई है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड की राज्यपाल (Uttrakhand Governor) बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) ने कोरोना संक्रमित (Corona Positive) की मौत के बाद अंतिम संस्कार में हुए विरोध के मामलों पर चिंता जताई है. इस तरह के मामले में आए मीडिया रिपोर्ट्स का राज्यपाल ने संज्ञान लिया है. इस संबंध में राज्यपाल ने प्रदेश के मुख्य सचिव उत्पल कुमार को एक चिट्ठी लिखी है. राज्यपाल ने इस तरह के मामलों में मानवीय दृष्टिकोण से समाधान करने के निर्देश दिए हैं. गौरतलब है कि देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमित मरीज की मौत के बाद ग्रामीणों के विरोध के मामले सामने आए हैं. इस तरह के मामले में प्रशासन के हस्तक्षेप के बावजूद लोग लगातार विरोध करते रहे. कोरोना महामारी के संकट की इस घड़ी में मौत के बाद इस तरह की परिस्थितियों का सामना पुलिस और प्रशासन को लगातार करना पड़ रहा है.

कोरोनाा ड्यूटी में तैनात कर्मचारी मिला संक्रमित
इसके अलावा रुद्रप्रयाग में कोरोना ड्यूटी में लगे शिक्षा विभाग के कर्मचारी के संक्रमित होने की जानकारी मिली है. इस मामले में रुद्रप्रयाग स्वास्थ्य विभाग की बड़ी नाकामी सामने आ रही है. दरअसल, 5 जून को सैम्पल लेने के बाद कर्मचारी क्वारंटाइन नहीं किया गया था. संक्रमित कर्मचारी के दिन भर रुद्रप्रयाग कलेक्ट्रेट में घूमने की खबर भी मिली है.

कई लोगों के संपर्क में आया था पॉजिटिव शख्स
जानकारी मिली है कि यह कर्मचारी डीडीएमओ, तिलवाड़ा बाजार व गांव में कई लोगों के संपर्क मेंआया था. स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना संक्रमित कर्मचारी की जानकारी मिलने के बाद पूरे कलेक्ट्रेट को सेनेटाइज किया है. इस खबर की जानकारी मिलने के बाद कर्मचारियों के अलावा आम लोगों में भी दहशत है.



कोरोना संकट के काऱण बड़ी संख्या में लौटे प्रवासी
कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए प्रदेश सहित पूरे देश में दो महीने से ज्यादा वक्त तक लॉकडाउन लागू रहा. इस दौरान बड़ी संख्या में उत्तराखंड के रहने वाले प्रवासी अपने अपने घरों में वापस लौटे हैं. इस दौरान संक्रमण के कई मामले भी सामने आए.

 

ये भी पढ़ें: उत्तराखंड में 75 नये मामले आए सामने, 1600 के पार पहुंची मरीजों की संख्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading